Loading...

CM कमलनाथ, शिवराज सिंह के खिलाफ जांच के आदेश क्यों नहीं दे रहे | MP NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश में सत्ता परिवर्तन को 50 दिन पूरे होने को हैं। कमलनाथ सरकार का पहला ऐजेंडा किसान कर्ज माफी था जिसकी प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। मध्यप्रदेश में कांग्रेस का सबसे बड़ा मुद्दा था। तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनके परिवार द्वारा किया गया कथित भ्रष्टाचार। अब सवाल उठने लगे हैं कि सीएम कमलनाथ, तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनके परिवार द्वारा किए गए कथित घोटालों की जांच के आदेश क्यों नहीं दे रहे हैं। 

CONGRESS ने सैंकड़ों बार SHIVRAJ SINGH को भ्रष्ट कहा था

बता दें कि कांग्रेस के सभी नेताओं ने सैंकड़ों बार तत्कालीन सीएम शिवराज सिंह चौहान और उनके परिवार वालों को भ्रष्टाचार का दोषी बताया था। तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव, नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया यहं तक कि खुद कमलनाथ ने भी ना केवल बयानों में शिवराज सिंह व परिवार को भ्रष्टाचार का दोषी कहा बल्कि शिकायतें भी कीं। चुनाव से पहले कांग्रेस ने कुल 1825 से ज्यादा घोटालों की लिस्ट जारी की थी परंतु अब तक किसी भी मामले में जांच के आदेश नहीं हुए हैं। 

क्या पुरानी दोस्ती निभा रहे हैं KAMALNATH

सीएम कमलनाथ और पूर्व सीएम शिवराज सिंह की दोस्ती को कौन नहीं जानता। कहते हैं एक बार जब पूरी भाजपा ने शिवराज सिंह का साथ छोड़ दिया था और हालात मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा देने वाले हो गए थे, तब कमलनाथ ने शिवराज सिंह की मदद की थी। सवाल यह है कि क्या वह दोस्ती अब भी कायम है और यही दोस्ती उन तमाम फाइलों पर पेपरवेट बनकर रखी हुई है जिनमें कांग्रेस द्वारा उजागर किए गए घोटालों की जानकारी दर्ज है।