Loading...

अजय सिंह: दिल्ली से भी निराश होकर लौटे, मामला जम नहीं पाया | MP NEWS

भोपाल। पूर्व नेताप्रतिपक्ष अजय सिंह को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने का मामला जम नहीं पाया। दिल्ली में 3 दिन तक डेरा डालने के बाद भी प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी उनके हाथ नहीं आई। अजय सिंह को सपोर्ट करने के लिए दिग्विजय सिंह भी दिल्ली में थे फिर भी बात नहीं बन पाई। सीएम कमलनाथ ने आधिकारिक बयान देकर इस चर्चा पर विराम लगा दिया है। 

दिल्ली दौरे से लौटते वक्त सीएम कमलनाथ ने बयान दिया कि फिलहाल मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष नहीं बदला जा रहा है। उन्होंने कहा लोकसभा चुनाव के लिए अब बहुत कम समय बचा है इसलिए संगठन में फिलहाल कोई फेरबदल नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा- अगर ज़रूरी हुआ तो कुछ नयी व्यवस्था की जा सकती है। काम और ज़िम्मेदारियां बांटी जा सकती हैं, ताकि सब कुछ आसानी से पूरा हो जाए।

बता दें कि सीएम कमलनाथ दिल्ली में मध्यप्रदेश भवन का शिलान्यास करने गए थे। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भी दिल्ली में थे। फिर अजय सिंह को दिल्ली बुलाया गया। सूत्रों ने दावा किया था कि सभी चर्चाएं हो गईं हैं। राहुल गांधी को भी राजी कर लिया गया है। इस बीच पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव दिल्ली पहुंच गए। इधर ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे के विधायकों ने शर्त रख दी है कि प्रदेश अध्यक्ष रामनिवास रावत या उनकी पसंद का होगा। विवाद बढ़ा तो फैसला लोकसभा चुनाव तक टाल दिया गया।