Loading...

FREE CAREER COUNSELING by CU केवल MP के STUDENTS के लिए | CAREER NEWS

इंदौर मध्य प्रदेश के छात्रों के लिए चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी ( University of Chandigarh ) की तरफ से नि:शुल्क कॅरियर काउंसलिंग (Career counseling) शुरू की गई है। यूनिवर्सिटी के इंदौर स्थित कार्यालय में सोमवार से इसका शुभारंभ हो गया है। यहां छात्र यूनिवर्सिटी द्वारा दी जाने वाली नि:शुल्क कॅरियर काउंसलिंग का भरपूर लाभ उठा सकते हैं।

यह जानकारी यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता प्रो. प्रभदीप सिंह ने भोपाल में आयाोजित प्रेस कांफ्रेंस में दी। उन्होंने बताया कि मप्र से अधिकतर छात्र इंजीनियरिंग, MBA, मासकॉम, होटल मैनेजमेंट व अप्लाइड साइंस ( Hotel Management and Applied Science ) जैसे कोर्स में ज्यादा रुचि दिखाते हैं।

उन्होंने बताया कि चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले मध्यप्रदेश के छात्रों की संख्या 2018 में 60 फीसदी तक बढ़ी है। अभी प्रदेश से 413 छात्र चंडीगढ़ विश्वविद्यालय में उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। इसमें भोपाल के 120 छात्र हैं। इसके अलावा प्रोफेशनल कॅरियर काउंसलर्स की एक टीम मप्र के अलग-अलग शहरों में भी भेजी जाएगी। उन्होंने बताया कि होनहार छात्रों का मनोबल बढ़ाने के लिए सीयू सैट-2019 के तहत 100 प्रतिशत तक की स्कॉलरशिप देने का प्रबंध किया जा रहा है।

इस स्कॉलरशिप परीक्षा ( Scholarship examination ) के तहत देशभर से 800 उत्कृष्ट छात्रों को चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी द्वारा विभिन्न कोर्स में स्कॉलरशिप दी जाएगी। इसका ऑनलाइन पेपर अप्रैल व मई 2019 में मप्र के अलग-अलग शहरों में केंद्र स्थापित कर लिया जाएगा। विद्यार्थी इस स्कॉलरशिप का विस्तृत ब्यौरा ऑनलाइन पढ़ सकते हैं।

वहीं, यूनिवर्सिटी के अध्यापकों के बच्चों के लिए 50 लाख रुपए की सलाना स्कॉलरशिप दी जाएगी। अलग-अलग विभाग की सीटों में से 5 प्रतिशत सीटें अध्यापकों के बच्चों के लिए आरक्षित रखी जाएंगी। साथ ही सैनिकों के बच्चों के लिए यूनिवर्सिटी में 5 प्रतिशत आरक्षण दिया गया है, साथ ही इन बच्चों को 20 प्रतिशत तक की स्कॉलरशिप दी जाएगी। 

पत्रकारों के लिए भी शुरू होगा कोर्स / Will start courses for journalists

प्रवक्ता प्रो. प्रभदीप सिंह ने बताया कि इस साल से विश्वविद्यालय कामकाजी पत्रकारों के लिए एक्जीक्यूटिव कोर्स शुरू कर रहा है। इसमें स्नातक, स्नातकोत्तर और पीएचडी कोर्स होगा। इसमें पत्रकारों को सिर्फ 50 दिन की कक्षाएं अटैंड करनी होगी। इसके बाद परीक्षा देनी होगी। इसमें 40 सीट सिर्फ प्रदेश के स्टूडेंट्स के लिए होगी।