Loading...

सपाक्स संस्था: दिग्विजय सिंह के आरक्षण को हटाने कमलनाथ से मिलेगी | EMPLOYEE NEWS

भोपाल। तत्कालीन मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अपने 'दलित ऐजेंडे' के तहत सरकारी सेवाओं में प्रमोशन में आरक्षण लागू किया था जिसे पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संरक्षित किया। अब सपाक्स संस्था उसी मामले में दिग्विजय सिंह के सहयोग से मुख्यमंत्री बने कमलानाथ से मिलकर मदद की गुहार लगाने वाली है। 

सपाक्स संस्था की प्रांतीय कार्यकारिणी की बैठक दिनांक 14.12.2018 को सम्पन्न हुई। इस बैठक में सपाक्स संस्था ने नई सरकार का स्वागत करते हुये नई सरकार के मुख्यमंत्री कमलनाथ का अभिनंदन किया एवं कहा गया कि कमलनाथ के नेतृत्व में विगत लंबे समय से बिखरी हुई पार्टी एक नए स्वरूप में जनता का विश्वास हासिल करने में कामयाब हुई है। 

सपाक्स संस्था की कार्यकारिणी द्वारा निर्णय लिया गया कि संस्था जिन उद्देश्यों के लिए गठित की गई तथा विगत 3 वर्षों से जिन मुद्दों को लेकर संघर्षरत है एवम् जिन पर पूर्व सरकार द्वारा कभी भी विचार तक न किया जाकर शासकीय तंत्र को ही बांट दिया गया, के संबंध में नए मुख्यमंत्री से मिलकर उन्हें वास्तविकताओं से अवगत करावेगी।

अपनी न्यायपूर्ण मांगों पर त्वरित कार्यवाही के लिए संस्था मुख्यमंत्री कमलनाथ से अनुरोध कर मिलने का समय लेगी तथा संस्था की मान्यता, पदोन्नति में आरक्षण संबंधी सरकार की अपील को वापिस लेकर 3 वर्षों से बाधित प्रक्रिया पुन: प्रारंभ करने, बैकलॉग की पुनर्समीक्षा कर सामान्य, पिछड़ा व अल्पसंख्यक वर्ग के 1.5 लाख खाली पदों को भरने, संविदा कर्मियों के नियमितीकरण के साथ साथ सभी नियमों को ताक पर रख वर्ग विशेष की सामान्य प्रशासन विभाग में नियुक्ति समाप्त करने आदि विषयों पर शीघ्र कार्यवाही की मांग करेगी।