Loading...

फांसी पर झूलती मिली आरक्षक की बेटी, मौत का कारण स्पष्ट नहीं | CRIME NEWS

ग्वालियर। 13वीं बटालियन आवासीय परिसर में शनिवार-रविवार की रात एसएएफ बटालियन में आरक्षक वीर बहादुर सिंह की 19 वर्षीय बेटी पूजा सिंह की लाश उसी के कमरे में झूलती हुई मिली। वो 2 भाईयों के बीच इकलौती बहन थी। परिजनों का कहना है कि एक महीने पहले बीकॉम का एक पेपर चूक गया था लेकिन क्यों चूक गया था, यह कोई नहीं बता रहा। 

बताया गया है कि 13वीं बटालियन में रहने वाले आरक्षक वीर बहादुर सिंह की बेटी पूजा (19) ने शनिवार-रविवार की रात अपने घर में फांसी लगा ली। रोज की तरह जब वह समय पर कमरे से बाहर नहीं आई तो उसकी मां उसे चाय पीने के लिए बुलाने पहुंची। देखा कि कमरे का गेट अंदर से बंद है। मां ने पूजा को आवाज देते हुए जब खिड़की से झांककर देखा, तो वह फांसी पर झूलती दिखी।

इसके बाद परिजन कमरे का गेट तोड़कर अंदर पहुंचे लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। पूजा के पिता ने बताया कि उसका बीकॉम पांचवे सेमेस्टर में विगत माह एक पेपर छूट गया था। उसके बाद वह तनाव में थी। पेपर क्यों छूटा था, इस पर किसी ने कुछ नहीं बताया। परिजन ने बताया कि पेपर छूटने के बाद परिजन उसे यह समझा रहे थे कि जनवरी में फिर पेपर हो जाएगा। बीती रात भी ऐेसी कोई बात नहीं हुई थी, जिससे लगे कि वह ऐसा कोई कदम उठा सकती है।