Advertisement

ADHYAPAK: लोकसभा चुनाव से पहले संविलियन और अनुकंपा नियुक्ति मांगी | MP NEWS



भोपाल। लोकसभा चुनाव के पहले मप्र के अध्यापकों का संविलियन शिक्षा विभाग में हो और अनुकंपा नियुक्ति के लंबित प्रकरणों का जल्द निपटारा किया जाए। यह चेतावनी रविवार को राजधानी भोपाल के नीलम पार्क में जुटे प्रदेश के अध्यापकों ने दी। ये अध्यापक आजाद अध्यापक संघ के नेतृत्व में जुटे थे। इनका नेतृत्व अध्यक्ष शिल्पी शिवान व कार्यकारी अध्यक्ष शिवराज वर्मा ने किया। बैठक में रमेशचंद्र भदौरिया को संरक्षक बनाया गया। यह प्रस्ताव अजीतपाल यादव ने दिया था।

कार्यकारी अध्यक्ष शिवराज वर्मा ने बताया कि शासन और प्रशासन से बातचीत कर अध्यापकों के शिक्षा विभाग में संविलियन जल्द कराएंगे। साथ ही मृतक अध्यापकों के परिजनों को अनुकंपा नियुक्ति देने के कई प्रकरण लंबित हैं। इनका भी निराकरण करवाया जाएगा। स्थानांतरण नीति को जल्द अमल में लाने पर जोर देंगे।

कार्यकारी अध्यक्ष एसके शिवहरे ने कहा कि कमलनाथ सरकार से वचनपत्र में किए वादों को पूरा करने का निवेदन करेंगे। प्रदेश स्तरीय बैठक में अध्यापकों ने निर्णय लिया है कि 13 जनवरी को भोपाल में महिला अध्यापकों ने सामूहिक मुंडन कराया था। इसके बाद ही तत्कालीन सरकार हरकत में आई थी और अध्यापकों के संविलियन का रास्ता साफ हुआ था। एक साल पूर्ण होने पर मुंडन की वर्षगांठ मनाएंगे। इसमें प्रदेश भर के अध्यापक हिस्सा लेंगे।