ठंड से ठिठुर उठे 42 जिले, सिर्फ 10 जिलों में राहत की धूप | MP WEATHER REPORT

24 December 2018

भोपाल। पहाड़ों में बर्फबारी होने से मैदानी इलाकों में गलन वाली सर्दी का असर बढ़ गया है। एक सप्ताह से प्रदेश के लगभग 42 जिलों में न्यूनतम पारा 10 डिग्री के नीचे चल रहा है। लिहाजा, लोग दिन और दिन ठंड में ठिठुर रहे हैं। सर्दी का सबसे ज्यादा असर ग्वालियर-चंबल संभाग समेत बुंदेलखंड के कुछ जिलों में देखा जा रहा है।

ग्वालियर में उत्तर से बर्फीली हवा आने के कारण दिन में भी सर्दी सता रही है। सोमवार को भी ग्वालियर-चंबल संभाग शीतलहर की चपेट में हैं। पर्यटन स्थल पचमढ़ी और खजुराहों में बीते एक सप्ताह से न्यूनतम पारा 2 डिग्री चल रहा है। मौसम विभाग के अनुसार आने वाले तीन दिन इसी तरह का मौसम बना रहेगा। 

इंदौर में थोड़ी राहत : 

यहां मौसम का मिजाज एकदम से बदल गया है। दो दिन पहले तक जहां दिन-रात का तापमान सामान्य से कम चल रहा था। सुबह-शाम कंपकंपी का एहसास हो रहा था, वह मौसम अब बदल गया है। तापमान सामान्य से 2 डिग्री ज्यादा हो गया है। रविवार को अधिकतम तापमान 28.6 डिग्री दर्ज हुआ, वहीं शनिवार रात को 11.8 डिग्री न्यूनतम तापमान रहा। हालांकि मौसम विभाग का अनुमान है कि दो दिन बाद फिर ठंड लौटेगी। तापमान 7 से 8 डिग्री के बीच रहेगा। 31 दिसंबर तक मौसम कंपकंपाने वाला ही रहेगा। 

सागर में तापमान 10 डिग्री से नीचे : 

शहर में लगातार 8 दिन से रात का तापमान 6 से 10 डिग्री के बीच बना हुआ है। इससे पहले 1996 में 9 से 14 दिसंबर तक छह दिन तक रात का तापमान 5.8 से 7.8 डिग्री के बीच रहा था। यहां 10 दिन पहले 13 दिसंबर से रात के तापमान के लुढ़कने का सिलसिला शुरू हुआ था। 14 दिसंबर को यह 10 डिग्री से नीचे 9.2 डिग्री, 15 को भी 9.2 डिग्री और फिर 16 दिसंबर को यह 9.2 डिग्री से गिरकर 6.5 डिग्री पर पहुंच गया। तब से यह शनिवार तक 10 डिग्री और इससे नीचे ही रहा। रविवार को भी रात का तापमान 10 डिग्री ही रहा। 

खजुराहो में तापमान 2 डिग्री पर पहुंचा

एक सप्ताह से लगातार ही न्यूनतम तापमान 2 डिग्री के आसपास है। रविवार को दिन का अधिकतम तापमान 24.6 डिग्री और न्यूनतम 2.0 डिग्री दर्ज किया गया, जबकि शनिवार को अधिकतम 24.4 और 2.0 डिग्री रिकाॅर्ड किया गया था। अधिकतम तापमान में 0.2 की गिरावट हुई है।


भोपाल: जनवरी से ज्यादा सर्दी दिसम्बर में

पिछले सीजन में 25 जनवरी को रात का तापमान 6.6 डिग्री दर्ज किया गया था। यानी यह रात सबसे सर्द थी। लेकिन इस बार दिसंबर में ही दो बार रात का तापमान 19 और 20 दिसंबर को इससे कम 6.0 और 6.2 डिग्री तक पहुंच चुका है। यानी इस बार दिसंबर पिछले सीजन के जनवरी से भी ज्यादा ठंडा है। दरअसल, अभी सुबह 6.30 बजे के बाद सूर्योदय हो रहा है। सूरज उगने के बाद भी पारा 8 डिग्री पर रहता है। तापमान सामान्य से 3-4 डिग्री कम किया जा रहा है। ऐसा मौसम जनवरी में ही होता है, लेकिन इस बार दिसंबर में ऐसे हालात बने। लगातार दस दिन से रात का तापमान सामान्य से कम है। 


दिन के तापमान में तीन दिन से इजाफा : 

दिन के तापमान में तो तीन दिन से इजाफा हो रहा है, लेकिन रात का तापमान 7-8 डिग्री के आसपास ही बना हुआ है। शाम 5 बजे के बाद मौसम में ठंडक हो जाती है। सुबह 7 बजे तक पारा तेजी से लुढ़क रहा है। इस वजह से सुबह सात बजे तक ठंडक बनी रहती है। रविवार को भी रात का तापमान 8.1 डिग्री दर्ज किया गया। इसमें सिर्फ 0.1 डिग्री की बढ़ोतरी हुई। ठंडक के कारण पिछले 72 घंटे में भी इसमें सिर्फ 1.1 डिग्री का इजाफा हो सका।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->