डॉ. जैन छात्राओं से कहते हैं मुझे तो ऐसी ही बाते पसंद है: शिकायत | MP NEWS

21 November 2018

उज्जैन। आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज उज्जैन की पैथालॉजी डिपार्टमेंट की जूनियर रेजिडेंट डॉक्टर (पीजी छात्राओं) ने ब्लड बैंक इंचार्ज डॉ. रूपम जैन पर यौन उत्पीड़न का गंभीर आरोप लगाया है। छात्राओं ने कॉलेज के डायरेक्टर को इसकी शिकायत भी की है।

पत्रकार श्री कमल चौहान की एक रिपोर्ट के अनुसार शिकायत में कहा गया है कि ब्लड बैंक इंचार्ज डॉ. रूपम जैन छात्राओं के कपड़े, नेल पाॅलिश से लेकर अन्य पर गंदे कमेंट्स करते हैं। छात्राओं के मोबाइल चैक कर पूछते है कि क्या पोर्न वीडियो देखती हो? छात्राओं ने शिकायत के साथ डॉ. जैन की बातचीत की ऑडियो रिकार्डिंग भी दी है जिसमें जैन एक छात्रा से कह रहे हैं कि जब तक तुम हां नहीं करोगी तब तक मैं तुम्हे छुऊंगा नहीं।

डॉ. जैन के खिलाफ 14 छात्राओं ने 13 नवंबर को एचओडी डॉ. मंजू पुरोहित और 14 नवंबर को डायरेक्टर डॉ. वीके महाडिक को लिखित शिकायत की। एक छात्रा ने बताया डॉ. जैन की हरकतों से काफी परेशान हो गए हैं, इसलिए सामूहिक रूप से आगे आकर यह कदम उठाना पड़ा। छात्राओं ने आरोप लगाए कि डॉ.जैन खुद को पूर्व मंत्री का रिश्तेदार बताते हुए यह कहते हैं कि किसी से भी शिकायत का कोई फायदा नहीं होगा।

छात्राओं ने बताया कि 14 नवंबर को इंदौर निवासी एक छात्रा की मां ने कॉलेज डायरेक्टर के कंठाल स्थित आॅफिस पर जाकर शिकायत की थी। डायरेक्टर ने शिकायत लेकर छात्रा की मां से कहा था कि मैं जैन को नोटिस देता हूं लेकिन कुछ नहीं हुआ। कॉलेज के डायरेक्टर डॉ.वीके महाडि़क मीडिया से बात नहीं करते हैं।

उनकी पत्नी और कॉलेज की गायनिक विभाग की एचओडी डॉ. कल्पना महाडि़क से जब भास्कर ने इस बारे में बात की तो उन्होंने कहा वे मंगलवार को कॉलेज में ही थी। डीन डॉ.एमके राठौर ने मुझे इस बारे में कुछ नहीं बताया। छात्राओं ने इस तरह की काेई शिकायत की है तो पता करवाते हैं। 

छात्राओं के ये आरोप

रात में वाट्सएप पर मैसेज भेजते हैं- इतनी रात तक किससे चेटिंग कर रही है। डीपी बहुत अच्छी है, कातिल लग रही हो। डार्लिंग शब्द से संबोधित करते हैं। कहते हैं तुमसे गोरे बच्चे चाहिए।
मोबाइल छीनकर देखते हैं कि किन लोगों से रोज बात करती हो। पूछते हैं कि इसमें पोर्न वीडियो है क्या? पता कर रहा था तुम देखती हो या नहीं। 
छात्राओं ने कैसे कपड़े पहने हैं, उनके शरीर पर फिट है या नहीं, इस पर कमेंट्स करते हैं। छात्राओं को बार-बार छूते हैं। 
डॉ.जैन ड्यूटी खत्म होने के बाद भी लैब में बुलाते हैं और बेवजह घंटों बात करते हैं। कोई छात्रा कहती है सर इस तरह बातें करना हमें यह पसंद नहीं। जैन कहते हैं मुझे तो ऐसी ही बाते पसंद है।

छात्राओं ने आप पर यौन उत्पीड़न के गंभीर आरोप लगाए हैं? 
दस साल से ब्लड बैंक का प्रभारी हूं। अनुशासन को लेकर कठोर हूं, इसलिए छात्राएं आरोप लगा रही। 
छात्राओं का आरोप है आप उनके कपड़े, नेल पाॅलिश और यहां तक कि बॉडी को लेकर कमेंट्स करते हैं? 
छात्राएं हैं, इसलिए उनके साथ थोड़ा फ्रेंडली हो जाता हूं। ऐसा है तो अब कठोर ही बनकर रहूंगा। 
छात्राओं को आप वाट्सएप पर मैसेज करते हैं, उनका मोबाइल छीनकर चैक करते हैं? 
फ्रेंडली किसी छात्रा से बात करता हूं, इसका यह मतलब नहीं। 
आप छात्राओं से कहते हैं मुझसे बात नहीं करोगी तो छुट्टी काट दूंगा, फेल करवा दूंगा? 
अनुशासन जरूरी है, छात्राएं चाहती हैं, उन्हें आजादी दे दो, यह नहीं हो सकता।

................
छात्राओं ने इंदौर आकर दो दिन पहले यौन उत्पीड़न की शिकायत की थी। ब्लड बैंक इंचार्ज डॉ. जैन के खिलाफ काफी सबूत भी दिए। मैंने यह शिकायत महिला आयोग भोपाल को फारवर्ड कर दी है। वहां से जैसा निर्देश मिलेगा, कार्रवाई करेंगे। 
अनिता राजपूत, सदस्य, महिला आयोग मुक्ति समिति।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->