धांधली को चुनाव आयोग का लाइसेंस, नेताओं ने साथ आकर वोट डलवाए | MP ELECTION

28 November 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018 में प्रशासनिक लापरवाही एवं चुनावी धांधलियों के तमाम तस्वीरें सामने आ रहीं हैं। केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने उत्तरप्रदेश की सीमाओं पर नाकाबंदी की पोल खोलकर रख दी। तो अब एक नया फोटो सामने आया है। भाजपा का कार्यकर्ता मतदाता को साथ लेजाकर ईवीएम मशीन पर वोट डलवा रहा है। वो निर्देशित कर रहा है कि किस वोट देना है, कौन सा बटन दबाना है। 

यह फोटो मध्यप्रदेश के किसी ग्रामीण इलाके का नहीं बल्कि राजधानी भोपाल का है। उत्तर विधानसभा सीट में यह मतदान किया गया और वोट डालने वाली महिला भी आम महिला नहीं बल्कि भाजपा की प्रत्याशी फातिमा है। वो ना तो विकलांग हैं और ना ही इतनी अस्वस्थ कि उसे किसी की मदद की जरूरत हो। उसके साथ मौजदू व्यक्ति भाजपा का कार्यकर्ता बताया जा रहा है। 

क्या है नियम, अब क्या हो सकता है


चुनाव आयोग के नियमानुसार मतदान केंद्र के अंदर जब मतदाता वोट डाल रहा हो तब उसके पास पीठासीन अधिकारी भी नहीं जा सकता। वो नितांत अकेला होगा और स्वतंत्रतापूर्वक मतदान करेगा। अब जबकि भाजपा के प्रत्याशी ने ही स्वतंत्र मतदान का का उल्लंघन कर दिया तो पीठासीन अधिकारी के अलावा भाजपा का प्रत्याशी भी इसके लिए दोषी है और उसे चुनाव के लिए अयोग्य घोषित कर दिया जाना चाहिए। 

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->