जानिए सेहत के लिए कितने फायदेमंद हैं ये फलाहारी व्यंजन | HEALTH NEWS

11 October 2018

नवरात्रि में व्रत रखना बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। इस दौरान लोग फलाहारी भोजन करते हैं। जिसमें साबूदाना, कुट्टू का आटा, सिंघाड़े का आटा जैसी चीजों का सेवन करते हैं। कई लोगों का मानना होता है कि व्रत में ये फलाहारी खाना खाने से वजन बढ़ जाता है, लेकिन आपको शायद ये नहीं पता कि ये सभी चीजें आपकी सेहत के लिए कितनी फायदेमंद (health benefits of falhari khana) हैं। ऐसा इसलिए कि ये चीजें अनाज से संबंधित नहीं हैं बल्कि ये एक तरह के फल से बनते हैं। इसलिए इन्हें खाने से नुकसान कम और फायदे ज्यादा होते हैं। तो जानिए इन फलाहारी भोजन (falhari diet) का सेवन करने के क्या है फायदे।

कुट्टू का आटा
# कुट्टू 75 प्रतिशत जटिल काबोहाइड्रेट है और 25 प्रतिशत हाई क्वालिटी प्रोटीन जो कि वजन कम करने में यह बेहतरीन मदद करता है । इसमें अल्फा लाइनोलेनिक एसिड होता है, जो एचडीएल कोलेस्ट्रोल (HDL cholestrol) को बढ़ाता है और एलडीएल(LDL) को कम करता है।
# कुट्टू के आटे में मैग्नीशियम होता है जो कि ब्लड प्रेशर घटाने में काफी मददगार है।
# कुट्टू के आटे में डी-चीरो-इनोसिटोल नामक तत्व होता है जो टाइप 2 डायबिटीज से बचाव में मददगार है।
# यह न घुलने वाले फायबर का अच्छा स्रोत है और पित्ताशय (Gall bladder) में पत्थरी होने से बचाता है।
# 5 प्रतिशत ज्यादा घुलनशील फायबर लेने से गाल ब्लैडर की पत्थरी होने का खतरा 10 प्रतिशत कम हो जाता है।  फाइबर से भरपूर कुट्टू का आटा डायबिटीज के मरीजों के लिए बेहतर विकल्प है। 

साबूदाना-
# साबूदाना में प्रोटीन (protein) भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसे खाने से हड्डियों का विकास होता है।
# इसमें हाईपोटैशियम लेवल होता है, इसलिए ये कार्डियोवस्कुलर प्रणाली के ठीक से काम करने में सहायक होता है।
# बॉडी टैम्परेचर को सही रखता है साथ ही इसे खाने के बाद ज्यादा भूख नहीं लगती।
# सेहत के साथ ही ये स्किन को भी हेल्दी रखता है। इसे फेसमास्क की तरह लगाने से चेहरे की  रंगत खिल उठती है और झुर्रियों की समस्या भी दूर होती है।

समा के चावल-
# व्रत रखने वालों और चावल खाने के शौकीन लोगों के लिए समा के चावल बेस्ट ऑप्शन है। कई जगहों पर इसे भगर भी कहा जाता है।
# इसमें 174 ग्राम में 169 कैलोरीज पाई जाती हैं।
# साथ ही व्रत के दिनों में ये आसानी से पचने वाला फलाहारी भोजन है।
# इसमें विटामिन (vitamin) और मिनरल्स (minerals) भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।

राजगिरी का आटा-
# कई लोग व्रत में राजगिरी के आटे का सेवन भी करते हैं। इससे रोटी, पुड़ी और लड्डू भी बनाए जा सकते हैं। पहली बात तो कि ये आटा प्रोटीन से भरपूर है, इसलिए इसे व्रत का फेवरेट और हेल्दी व्यंजन माना गया है।
# इसका सेवन करने से गठिया रोग (arthritis) और सूजन से राहत मिलती है।
# इसमें कैल्शियम पर्याप्त मात्रा में होता है, जो हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है।
#  इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर होता है जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने में उपयोगी  है।
#  ये एंटीऑक्सीडेंट आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी काफी फायदेमंद है। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->