ग्वालियर में डेंगू ने मचाया कोहराम, 45 मरीज मिले | HEALTH NEWS

04 October 2018

ग्वालियर। अंचल में डेंगू लगातार पैर पसारता जा रहा है। शहर में डेंगू बुखार बेकाबू होता जा रहा है। GRMC (गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय) में एक दिन में 132 सैंपल की जांच की जा चुकी है, इसमें 40 डेंगू पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके साथ ही 5 नए और डेंगू पॉजिटिव मिले हैं। ग्वालियर के अस्पतालों के कई वार्ड डेंगू और मलेरिया पीड़ितों से भर गए हैं। ग्वालियर में डीडी नगर के बाद अब सिकंदर कंपू भी डेंजर जोन बन गया है। नगरीय प्रशासन मंत्री माया सिंह ने एक सप्ताह पहले स्वास्थ्य विभाग को शहर में के छिड़काव और फॉगिंग करने के निर्देश दिए थे। तीन दिन तक अफसरों ने तत्परता दिखाई, लेकिन तीन दिन बाद छिड़काव और फॉगिंग बंद कर दी गई है। नियमित कीटनाशक दवाओं का छिड़काव और फोगिंग करने की बजाय सिर्फ खानापूर्ति में लगे हुए हैं। 

बुधवार को डीडी नगर क्षेत्र में डेंगू पीड़ित मरीजों की संख्या 68 तक पहुंच गई। इनमें भगत सिंह नगर सहित 5 मरीज डीडीनगर में बुधवार को भी मिले। उधर, सिकंदर कंपू में 8 साल की बच्ची की मौत के बाद भी यहां डेंगू पीड़ितों की संख्या हर रोज बढ़ रही है। बुधवार को भी यहां 3 नए मरीज सामने आए। मलेरिया विभाग अभी तक शहर में डेंगू के मरीजों की संख्या 118 बता रहा है। 

जीआरएमसी के माइक्रो बायोलॉजी विभाग में बुधवार को सीजन के सबसे अधिक 132 सैंपल टेस्ट के लिए लगाए गए। इसमें 40 मरीजों को डेंगू होने की पुष्टि हुई है। इनमें 25 मरीज ग्वालियर शहर के निवासी हैं। इनमें डीडी नगर-भगत सिंह नगर में 5, सिकंदर कंपू व लश्कर के 3-3, बहोड़ापुर, गिरवाई नाका व पनिहार के 2-2 तथा मुरार, हजीरा, थाटीपुर, बाला बाई का बाजार, कटी घाटी, माधौगंज, शिंदे की छावनी, महेशपुरा का 1-1 मरीज शामिल हैं। 

जीआरएमसी की लैब में जिले भर के डेंगू के संदिग्ध मरीजों के सैंपल की जांच हो रही है। लेकिन यह परिसर डेंगू के खतरे से सुरक्षित नहीं है। जीआरएमसी में निर्माण कार्य चल रहा है। इस कारण यहां मच्छर बढ़ गए हैं। जीआरएमसी के एक अधिकारी ने बताया कि हम तीन बार मलेरिया अधिकारी को फोन कर कीटनाशक दवा का छिड़काव और फोगिंग करने के लिए कह चुके हैं लेकिन अभी तक टीम नहीं आई। 

मलेरिया विभाग ने 32 डेंगू के मरीजों की पुष्टि की है। जबकि जिला अस्पताल के मेडिसिन विभाग के डॉक्टर की मानें तो अभी तक वे ही करीब 70 ऐसे मरीजों को देख चुके हैं, जिनमें डेंगू था। लेकिन विभाग तभी मरीजों में डेंगू मानता है, जब ग्वालियर से एलायजा टेस्ट में डेंगू की पुष्टि हो जाती है। सरकारी आंकड़ों से अलग डॉक्टरों की बात मानें तो अभी तक जिले भर में डेंगू के मरीजों की संख्या 200 के पार पहुंच चुकी है।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->