Loading...

10वीं के छात्र ने दोस्तों को बता दी थी घर की बात, अपहरण और हत्या | Gwalior mp news

ग्वालियर। जमीन का जीडीए द्वारा अधिग्रहण किए जाने के बाद 10वीं के छात्र राजू लोधी को परिवारजनों को 10 करोड़ रुपए मिले थे। राजू ने यह बात अपने दोस्तों को बता दी। 4 दोस्तों ने राजू का ही अपहरण कर डाला और उसके घरवालों से ढाई करोड़ रुपए की फिरौती मांगी। जब फिरौती नहीं मिली तो राजू की हत्या करके एक खेत में शव दफन कर दिया। 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार चार दिन पहले महाराजपुरा के मऊ गांव से दसवीं का छात्र राजू लोधी लापता हो गया था। परिजनों ने उसकी गुमशुदगी की कायमी कराई थी। उसके बाद राजू के एक दोस्त का फिरौती की रकम के लिए फोन आया। उसने छात्र की अलग-अलग लोकेशन बताई। पुलिस ने राजू के दोस्त कमलेश, सचिन, दीपू ओर प्रदीप को संदेह के आधार पर उठा लिया। पूछताछ में चारों ने फिरौती को लेकर अपहरण करने और हत्या करने की बात कबूली। जिसके बाद पुलिस ने कमलेश नाम के आरोपी के खेत में कुएं के पास गड्ढा खोदकर शव को बरामद कर लिया है। 

बताया गया है कि मृतक के पिता और उनके भाइयों के नाम 16 बीघा जमीन है। जो अभी जीडीए (ग्वालियर विकास प्राधिकरण) के अधिग्रहण में आई है। इस जमीन के बदले परिवार को करीब दस करोड़ रुपए मिले हैं। मृतकों के दोस्तों को ये बात मालूम थी। और इसी के चलते छात्र का अपहरण कर फिरौती मांगी जा रही थी। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com