Loading...

Sc/StAct: सांसद नहीं आए, लोगों ने कुत्ते से पूछा, संसद में विरोध क्यों नहीं किया | SATNA MP NEWS

सतना। एससी/एसटी एक्ट के विरुद्ध चल रहे प्रदर्शन की दहशत नेताओं के दिलों में जमकर बैठ गई है। यहां सांसद गणेश सिंह ज्ञापन लेने के लिए तक नहीं आए। प्रदर्शनकारियों ने एक कुत्ते को वह ज्ञापन सौंप दिया जो वो सांसद गणेश सिंह के लिए लाए थे। प्रदर्शनकारियों से घबराए सांसद ने पुलिस बुला ली। लोगों ने कुत्ते के गले में सांसद के नाम की तख्ती भी टांग दी। दरअसल, सर्व समाज के लोगों ने चौपाटी में एक सभा आयोजित की थी, जिसमें सांसद गणेश सिंह को ज्ञापन सौंपने के लिये आमंत्रित किया गया था, लेकिन सांसद के नहीं पहुंचे और यह सारा घटनाक्रम हुआ। 

सांसद के घर का घेराव करने जा रही भीड़ को पुलिस ने रोका
सांसद के रवैये से नाराज गुस्साई भीड़ गणेश सिंह के घर का घेराव करने की तैयारी कर ली,  इस बीच सांसद ने पुलिस बुला ली। भारी संख्या में पहुंची पुलिस ने आक्रोशित भीड़ को सांसद के घर पहुंचने से पहले ही गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच नोक-झोंक भी हुई। इस दौरान गुस्साई भीड़ ने सीएम शिवराज सिंह और सांसद गणेश सिंह के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे भी लगाये। विरोध कर रही भीड़ को पुलिस, बसों में भरकर सिविल लाइन थाने ले गई।

सीएम और सांसद के खिलाफ लगाये मुर्दाबाद के नारे 
विरोधियों का कहना है कि 'इस आंदोलन का दूसरा चरण आज सम्पन्न हुआ है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि उन्होंने सांसद गणेश सिंह को चौपाटी में जनता के सवालों का जवाब देने के लिये आमंत्रित किया था, लेकिन वे नहीं आये, ना ही उन्होंने इस काले कानून का विरोध किया। जनता के द्वारा चुना हुआ सांसद जनता के बीच आने से डरता है तो यह भारतीय संसदीय इतिहास के लिए सबसे काला दिन साबित होगा। वे जनता के प्रति वफादार नहीं हैं, इसलिये हमने प्रतीकात्मक रूप से कुत्ते को सांसद की पट्टा पहनाकर उससे जनता के सवाल पूछे हैं।

आंदोलनकारियों ने सरकार को दी चेतावनी 
प्रदर्शनकरियों ने चेतावनी दी है कि 'आने वाली 18 तारीख को प्रदेश के 'मामा' कहे जाने वाले सीएम शिवराज सिंह का सतना आगमन है, जिसका हम सभी मिलकर विरोध करेंगे। आंदोलन के आखरी चरण में हम ईंट से ईंट बजा देंगे। जिस तरह एक सांसद जनता के सवालों का जवाब नहीं दे सकता, उसे देखते हुये सर्व समाज ने निर्णय लिया है कि ऐसी सरकार को हम उखाड़ फेकेंगे।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com