आधार पर SC के फैसले के बाद JIO, PAYTM, AIRTEL, VODAFONE जैसी कंपनियां हुई ट्रोल | NATIONAL NEWS

26 September 2018

NEW DELHI: सुप्रीम कोर्ट ने साफ कर दिया है कि प्राइवेट कंपनियां आधार की मांग नहीं कर सकतीं। आधार की संवैधानिक वैधता पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला पढ़ते हुए जस्टिस सीकरी ने केंद्र से डेटा प्रोटेक्शन पर जल्द से जल्द मजबूत कानून लाने के लिए कहा है। सुप्रीम कोर्ट के 5 जजों की पीठ ने आधार को सुरक्षि‍त और लोगों के लिए जरूरी बताया है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ट्वीटर पर लोगों ने उन कंपनियों को ट्रोल करना शुरू कर दिया जो सर्विस देने के लिए आधार की मांग करती हैं। सोशल मीडिया यूजर्स ने सबसे ज्यादा JIO, PAYTM, AIRTEL, VODAFONE को निशाना बनाया। कई लोगों ने इन कंपनियों को साफ साफ नसीहत दी कि आगे से वे आधार मांगने की कोश‍िश न करें। 

वहीं कुछ लोगों ने JIO से सवाल क‍िया कि क्या वह अब उनके द्वारा दी आधार से जुड़ी जानकारी को मिटाने की कोश‍िश करेंगे और अगर ऐसा होता है तो वह कैसे होगा? वहीं कुछ लोगों ने इसे राहत वाला फैसला बताया क्योंकि उनके अनुसार कुछ कंपनियां जबरदस्ती उनसे आधार मांग रही थी। हालांकि लोगों को इस बात को लेकर कन्फ्यूजन है कि अब KYC के लिए आधार जरूरी होगा या नहीं? वहीं कुछ लोगों ने पेटीएम से पूछा कि वह बताए कि आधार की जानकारी को पेटीएम से कैसे अनलिंक क‍िया जाए। वहीं कई लोगों ने कंपनियों से आधार से जुड़ी जानकारी खत्म करने का आग्रह किया। 

आपको बता दें कि आपको बता दें कि‍ सुप्रीम कोर्ट ने आधार की संवैधानिक वैधता को बरकरार रखा। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि सरकार को यह सुनिश्चित करना होगा कि अवैध प्रवासियों को आधार कार्ड न मिले। आधार कार्ड की अनिवार्यता को लेकर सुप्रीम कोर्ट अपना फैसला सुनाया। फैसला पढ़ता हुए जस्टिस एके सीकरी ने कहा कि ये जरूरी नहीं है कि हर चीज बेस्ट हो, कुछ अलग भी होना चाहिए। आधार कार्ड पिछले कुछ साल में चर्चा का विषय बना है। 

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week