Advertisement

सांसदों की सामूहिक शवयात्रा के बाद तेरहवीं कार्यक्रम का आयोजन, शोकपत्र बंटे | MP NEWS



अशोकनगर। SC-ST एक्ट में 545 सांसदों की सामूहिक शवयात्रा के बाद अब तेरहवीं की तैयारी की तैयारी की जा रही है। एट्रोसिटी एक्ट के विरोध में 14 सितंबर को यहां लोगों ने विरोध स्वरुप 545 सांसदों की सामूहिक शवयात्रा निकाली और मुंडन भी कराया था। अब आगामी 25 सितम्बर को तुलसी पार्क चौराहे पर सासंदो की तेहरवी का आयोजन भी किया जा रहा है। किसी व्यक्ति के मर जाने पर होने बाले सभी संस्कार यहां किये जा रहे है। बकायदा इन सांसदों की आत्मा की मृत्यु का शोक संदेश देते हुए शोकपत्र भी छपवाए गए है। सभी सासंदो को उनकी आत्मा की मौत के बाद तेहरवीं के कार्यक्रम में बुलाने के लिये युवाओं ने अभी 545 सांसदों को डाक से शोकपत्र भेजे है।  

शनिवार को सर्वण  समाज के युवाओ द्वारा सभी 545 सांसदों के लिए संसद में पोस्ट ऑफिस द्वारा शोकपत्र भेजे है। यह शोकपत्र स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं राजनेताओं को भी भेजे जा रहे है। 

पत्र में लिखा है अत्यंत दुःख के साथ सूचित करना पड़  रहा है की भारतीय संसद के 545 सदस्य और जनता द्वारा चुने हुए सांसदों की आत्मा का स्वर्गवास माननीय सर्वोच्च न्यायलय के फैसले के विरुद्ध एससीएसटी एक्ट संसोधित बिल पारित करते समय संसद के अंदर हो गया था सभी दलों के सांसदों की आत्मा को मृत समझकर इनकी काल्पनिक शवयात्रा और सामूहिक मुंडन कार्यक्रम दिनांक 14-09-2018 को अशोकनगर में तुलसी पार्क पर रखा गया था।   

इन सभी सांसदों की आत्मा की शांति हेतु दिनांक 23-09-2018 को कच्ची के रश्म एवं दिनांक 24-09-2018 को गंगा जी पूजन एवं कड़ाई चढ़ेगी सो आप जानना जी।