Loading...

MP ELECTION में चर्चित रहेगा 'चाचौड़ा का चौराहा' कई BREAKING NEWS निकलेंगी

गुना। 2018 के विधानसभा चुनाव में शायद चाचौड़ा विधानसभा के भीतर काफी कुछ हलचल नजर आएगी। पूत के पांव पालने में दिखने लगे हैं। दिग्विजय सिंह शासनकाल में 'छोटे राजा' के नाम से प्रख्यात रहे लक्ष्मण सिंह यहां रुचि दिखा रहे हैं। फिलहाल यहां से भाजपा की महिला नेता ममता मीणा विधायक हैं। लोग इन्हे 'चाचौड़ा की रानी' भी कहते हैं। इनके पति आईपीएस अधिकारी रघुवीर सिंह मीना हैं। इसलिए इनका क्षेत्र में अतिरिक्त दबदबा है। 

छोटे राजा को चुनाव लड़ाने की तैयारी
दो दिन पहले लक्ष्मण सिंह ने मीडिया से खास बातचीत में कहा था कि चाचौड़ा विधानसभा क्षेत्र में लोगों को रोजगार नहीं मिल रहा है और लोग आज भी पलायन कर रहे हैं। बता दें कि चाचौड़ा विधानसभा दिग्विजय सिंह परिवार के लिए सुरक्षित मानी जाती है। दिग्विजय सिंह जब दूसरी बार मुख्यमंत्री बने थे तब चाचौड़ा विधानसभा से ही विधायक का चुनाव लड़ कर उन्होंने मुख्यमंत्री पद हासिल किया था। अब 2018 का विधानसभा चुनाव है। कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया की खींचतान के बीच दिग्विजय सिंह चाहते हैं कि सदन में उनके विधायकों की संख्या सबसे ज्यादा हो अत: लक्ष्मण सिंह को यहां से चुनाव में उतारने की तैयारी चल रही है। 

'चाचौड़ा की रानी' ने दिया जवाब
चाचौड़ा से वर्तमान भाजपा विधायक ममता मीना ने लक्ष्मण सिंह पर पलटवार करते हुए कहा है कि दिग्विजय सिंह 10 साल मुख्यमंत्री रहे लेकिन इस क्षेत्र को पिछड़े से उभारने के लिए क्या किया। आज यहां से लोग पलायन नहीं कर रहे है। तब किया करते थे जब यहां दिग्विजय सिंह की सरकार थी। अब यहां किसानों को पानी मिल रहा है। सड़कों के जाल बिछ गए हैं। अरबों खरबों का काम यहां चल रहा है। और अब यहां पिछड़ा जैसा कुछ नहीं है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि लक्ष्मण सिंह ने यहां झूठे भूमिपूजन किए। अगर वह चुनाव लड़ने चाहते हैं तो ये उनकी इच्छा है। जनता उन्हें चुनाव में जवाब देगी। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com