पढ़िए क्या हुआ कि BJP के संगठन महामंत्री को मंत्री से माफी मांगनी पड़ी | MP NEWS

07 September 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में भाजपा के संगठन महामंत्री सुहास भगत ने बड़ी ही सूझबूझ के साथ एक बड़ा विवाद खड़ा होने से पहले ही सुलझा लिया। उन्होंने मंत्री यशोधरा राजे से माफी मांगी और बात खत्म हो गई। 

पत्रकार श्री राजेन्द्र पाराशर की रिपोर्ट के अनुसार मध्यप्रदेश भाजपा के पदाधिकारियों की आज राजधानी भोपाल के उपनगर बैरागढ़ में 25 सितंबर के कार्यकर्ता महाकुंभ को लेकर बैठक थी। इस बैठक में जब यशोधरा राजे सिंधिया पहुंची तो उन्हें बैठक स्थल पर पंडित श्यामप्रसाद मुखर्जी, कुशाभाऊ ठाकरे और अटलबिहारी वाजपेयी के फोटो नजर आए, लेकिन राजमाता सिंधिया को फोटो नहीं दिखाई दिया। इस पर पहले तो उन्होंने महिला विधायक ऊषा ठाकुर से पूछा क्या यहां पर राजमाता का फोटो नहीं लगाया जाना चाहिए था? क्या मैं गलत कह रही हूं? जिन्होंने पार्टी को खड़ा किया, उन्हीं का अपमान करना उचित है?

यशोधरा के गुस्से से बैठक में सन्नाटा पसर गया
महिला पदाधिकारियों ने भी अपनी सहमति जताई और कहा कि आप ठीक कह रही है, ऐसा नहीं होना चाहिए। जिन्होंने पार्टी की नींव रखी उनका अपमान नहीं होना चाहिए। इसके बाद यशोधरा राजे ने संगठन महामंत्री सुहास भगत और सह संगठन महामंत्री अतुल राय को जमकर खरी-खोटी सुनाई। गुस्से से तिलमिलाई यशोधरा बाद में बैठक को छोड़कर निकल गई। यशोधरा के गुस्से से बैठक में सन्नाटा पसर गया और मौजूद पदाधिकारी सहम गए।

फोन पर मांगी माफी, लगा फोटो, लौटी यशोधरा
मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया की नाराजगी को देख और बैठक से चले जाने के बाद प्रदेश संगठन मंत्री सुहास भगत ने फोन पर यशोधरा से माफी मांगी और कहा कि राजमाता का अपमान करना या उनका अनादर करना उनकी या संगठन की मंशा नहीं थी। संगठन मंत्री के मान मन्नौव्वल पर यशोधरा बाद में फिर बैठक में शामिल हुर्इं। यशोधरा के बैठक में शामिल होने के पहले राजमाता का फोटो भी पदाधिकारियों ने बुलवाया और सम्मानपूर्वक लगाया गया।

प्रदेश अध्यक्ष कोई जवाब नहीं दे पाए
गृह मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने जब यशोधरा राजे सिंधिया की नाराजगी को लेकर मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि राजमाता की फोटो हर बार रखी जाती है अगर एक बार नहीं रखी गई उनका अपमान थोड़े हो जाएगा। मुझे नही लगता कि कोई नाराजगी की बात है। वहीं इस मामले को लेकर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने मौन साध लिया, जबकि भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने कहा कि वे जानकारी लेने के बाद ही कुछ कह पाएंगे।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week