29 छात्रों को मेडिकल काॅलेज में नि:शुल्क प्रवेश की घोषणा बावजूद CM को करना पड़ा विरोध का सामना

19 September 2018

भोपाल। शिवराज सिंह को विदिशा में भारी विरोध का सामना करना पड़ा। सीएम ने 356 करोड़ की लागत से बने अटल बिहारी वाजपेयी मेडिकल कालेज भवन का लोकार्पण पहुंचे। भारी सुरक्षा व्यवस्था के बाद भी करणी सेना ने रंगई के पास और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विवेकानंद चौराहे के पास मुख्यमंत्री के काफिले को काले झंडे दिखाए। मुख्यमंत्री शाम करीब 6.38 बजे स्टेडियम परिसर में बने मंच पर पहुंचे और अपने 10 मिनट के भाषण  में घोषणा की कि 12वीं बोर्ड की परीक्षा में 80 फीसदी से अधिक अंक लाने वाले किसी भी जाति वर्ग के 29 प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं को मेडिकल काॅलेज में नि:शुल्क प्रवेश दिलाया जाएगा। ऐसे विद्यार्थियों की फीस भरने का इंतजाम सरकार द्वारा किया जाएगा। संबल योजना के भी एक प्रतिभाशाली विद्यार्थी की यहां नि:शुल्क पढ़ाई करवाई जाएगी। इस कार्य में भले ही सरकार का खजाना खाली हो जाए। यदि हमारे प्रदेश के छात्रों का भविष्य बन गया तो सरकार का खजाना अपने आप भर जाएगा। 

CM ने कहा कि विदिशा में 750 बेड के हाॅस्पिटल के साथ अत्याधुनिक मेडिकल काॅलेज बनाया गया है। इसमें सामान्य बीमारियों के अलावा हार्ट, किडनी, कैंसर और लीवर आदि की गंभीर बीमारियों का भी इलाज किया जाएगा।मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की कई सरकारें काबिज रहीं लेकिन साल 1964 के बाद यहां किसी ने भी मेडिकल कालेज का निर्माण नहीं किया। इसी वजह से पूरे प्रदेश में केवल 6 मेडिकल काॅलेज थे। मैंने अपने शासन कालेज में विदिशा, दतिया, रतलाम, खंडवा सहित 10 शहरों में मेडिकल कालेज खुलवाए। अब पूरे प्रदेश में मेडिकल कालेजों की संख्या 6 से बढ़कर 16 हो गई है। पहले प्रदेश में हर साल कुल 600 डॉक्टर निकलते थे लेकिन अब यहां से हर साल 2600 डॉक्टर निकलेंगे। पहली बार शहर के लोगों ने ऐसी कड़ी सुरक्षा व्यवस्था देखी थी। दरअसल सपाक्स, करणी सेना और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन के चलते पुलिस प्रशासन ने एहतियात के तौर पर चप्पे-चप्पे में सुरक्षा बल तैनात किया गया था। विदिशा, भोपाल, रायसेन, सीहोर आदि कई जिलों से 1000 से अधिक जवान बुलाए गए थे। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि पुराने अस्पताल भवन की तरह नए अस्पताल भवन में कमोडिटी भवन पास भी सार्वजनिक भोजनालय सेवा समिति के माध्यम से मरीजों और उनके परिजनों को सिर्फ रुपए में भोजन की सुविधा मिलती रहेगी। इसके लिए उन्होंने 2100 वर्गफीट जमीन पर भवन निर्माण के लिए भूमिपूजन किया। पिछले साल यह जमीन मुख्यमंत्री ने ही समिति को आवंटित की थी। अब यहां नया भवन बनेगा। 

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->