ये हैं कुछ खास फोटोग्राफी टिप्स जो सीनियर फोटोग्राफर देवेन्द्र ने बताए | MOBILE PHOTOGRAPHY TIPS

13 August 2018

भोपाल। आईजी भोपाल के द्वारा फोटोग्राफी वर्कशॉप का आयोजन रविवार को चायवाला और चटर-पटर कैफे में किया गया। इस दौरान सीनियर फोटोग्राफर देवेन्द्र दुबे ने अपने फोटोग्राफी टिप्स बडिंग फोटोग्राफर से शेयर किए। साथ में ही आईजी भोपाल की वॉल का उद्घाटन देवेंद्र दुबे ने किया। उल्लेखनीय है कि इंस्टाग्राम पेज पर आईजी भोपाल हर हफ्ते 3 फोटोग्राफर्स की फोटोज पोस्ट की जाएगी। जिस फ़ोटो को सबसे ज्यादा लाइक्स मिलेंगे, उस फोटोग्राफर का फोटो आईजी वॉल पर एग्जीबिट होगा। इसके अलावा कांटेस्ट के जरिए कैश प्राइज भी दिए जाएंगे। इसका उद्देश्य फोटोग्राफर को अच्छी फोटोग्राफी के लिए मोटिवेट करना है।

एक- 1/3 का नियम
फोटोग्राफी का सबसे बेसिक रूल है-रूल ऑफ वन थर्ड। आमतौर पर तस्वीर लेते वक्त हम सब्जेक्ट यानी जिस चीज या व्यक्ति की तस्वीर लेनी है, उसे सेंटर में रख लेते हैं। यह गलत है। सब्जेक्ट एक तिहाई हिस्से में होना चाहिए। उदाहरण के लिए आप हर फोटो के एरिया को नौ बराबर खानों में बांट लें। अब सब्जेक्ट को किसी एक-तिहाई हिस्से के कोने पर रखें। जैसे अगर आपको चेहरे की तस्वीर लेनी है तो आंखों को ऊपरी एक-तिहाई में रखें।

दो- फोटो के पीछे क्या है ?
फोटो का बैकग्राउंड बहुत जरूरी होता है। फोटो लेते वक्त बैकग्राउंड के बारे में जरूर सोचें। खुद से पूछें। बैकग्राउंड डिस्टर्ब तो नहीं कर रहा? क्या उसके बिना फोटो ज्यादा अच्छा होगा? क्या दूसरा बैकग्राउंड इससे ज्यादा अच्छा होगा? इन सवालों के जवाब आपको बेहतर तस्वीर लेने में मदद करेंगे।

तीन- सूरज कहां है ?
फोटो में लाइटिंग का बहुत अहम रोल है। अगर बाहर खुले में फोटो ले रहे हैं तो सूरज कहां है, इसका आपके फोटो पर बहुत असर पड़ेगा। एक बेसिक रूल है- सूरज फोटोग्राफर के पीछे होना चाहिए। सूरज सिर पर नहीं होना चाहिए, इसलिए कहते हैं कि दिन के 12 बजे यानी वह वक्त जब सूरज सिर पर हो, फोटोग्राफी के लिए सबसे खराब है। यही नियम घर के अंदर यानी बल्ब पर भी लागू होगा।

चार-आकाशीय बिजली को कैसे क्लिक करे?
अपने कैमरे को अपने ट्रिपॉड पर रखें और कैमरा सेटिंग्स को कॉन्फिगर करें। अपने लेंस को मैन्युअल फोकस पर सेट करें और फिर अनंतता पर ध्यान केंद्रित करें। ऑटो मोड में एक टेस्ट शॉट लें और सुनिश्चित करें कि आपकी तस्वीर पिछली एलसीडी पर तेज दिखती है। याद रखें, डिजिटल कैमरे अंधेरे वातावरण में सही फोकस हासिल नहीं कर सकते हैं, इसलिए मैन्युअल रूप से ध्यान केंद्रित करना सबसे अच्छा है। अपने कैमरा आईएसओ को 'आधार' आईएसओ पर सेट करें। निकोन डी 5000 / डी 90 / डी 300 / डी 700 / डी 3 / डी 3 एस कैमरे बेस आईएसओ 200 है। पुराने निकोन कैमरे जैसे डी 80 / डी 200 बेस बेस आईएसओ 100 है। अधिकांश कैनन डीएसएलआर के पास बेस आईएसओ के रूप में 100 है।

अपने कैमरे को पूर्ण मैनुअल मोड में सेट करें। मैन्युअल मोड में आप एपर्चर और शटर गति दोनों को नियंत्रित करते हैं। 3-5 सेकंड और एफ / 8 की शटर गति से शुरू करें और देखें कि छवि कैसे निकलती है। यदि आप अंधेरे क्षेत्र में हैं, तो आप शटर गति को 15-30 सेकंड तक सभी तरह से कम करना चाहते हैं, जबकि बहुत सारे प्रकाश वाले क्षेत्रों में आपको लेंस को एफ / 16 या उससे अधिक तक रोकना होगा।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week