BHOPAL: 625 करोड़ का नया मंत्रालय, बुलेटप्रूफ होगा सीएम का आॅफिस | MP NEWS

15 August 2018

भोपाल। सवा छह सौ करोड़ की लागत से तैयार हो रहे मंत्रालय के नए भवन में मौजूद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के दफ्तर की खिड़कियां बुलेट प्रूफ होंगी। सुरक्षा ऑडिट के बाद गृह विभाग की सलाह पर यह कांच लगाया जा रहा है। मुख्यमंत्री के दफ्तर की दो खिड़कियां बाहर की तरफ हैं, इन्हें 50 मिमी (पांच सेमी) मोटे बुलेट प्रूफ कांच से कवर किया जाना है। कंस्ट्रक्शन कंपनी शापुरजी-पालोनजी ने इसे विदेश से आयात किया है, जो 15 दिन के भीतर भोपाल पहुंच जाएंगे। इन भारी-भरकम कांच को लगाने के लिए 100 टन वजनी क्रेन इंदौर से बुलाने की तैयारी है। मुख्यमंत्री के दफ्तर के अंदर के कांच सामान्य रहेंगे।

कॉर्पोरेट स्टाइल: 
नई बिल्डिंग की 5वीं मंजिल पर बना सीएम का ऑफिस 40 हजार वर्ग फीट का है। सीएम के कक्ष से सटा मीटिंग रूम है, उससे बाहर निकलते ही 5 हजार वर्ग फीट का ओपन एरिया होगा। सीएम के नए भवन में प्रवेश करने की तिथि फिलहाल तय नहीं है।

अभी जो कांच लगे हैं, वो हटेंगे
मंत्रालय सूत्रों का कहना है कि वर्तमान में जो कांच लग गए हैं, उन्हें हटाया जाएगा। ये सुरक्षा ऑडिट से पहले लगे थे। हाल ही में पुलिस मुख्यालय की ओर से सुरक्षा ऑडिट किया गया है। उनके सुझाव के बाद बुलेट प्रूफ कांच लगाने की कवायद शुरू हुई। कंस्ट्रक्शन फर्म 15 सितंबर तक नए मंत्रालय का काम पूरा करना चाहती है। कॉर्पोरेट स्टाइल में बन रही यह बिल्डिंग मप्र में संभवत: सबसे महंगी है, जिसकी लागत 615 करोड़ रुपए से अधिक है। मुख्यमंत्री का दफ्तर 40 हजार वर्ग फीट (लगभग एक एकड़) का बन रहा है। कुल निर्माणाधीन एरिया 6 लाख वर्ग फीट के करीब है।

37 विभागों की बैठक कल:
नए मंत्रालय भवन में शिफ्टिंग को लेकर मुख्य सचिव बीपी सिंह 16 अगस्त को 37 विभागों के प्रमुखों के साथ बैठक करेंगे। ये विभाग नए भवन में शिफ्ट होने वाले हैं। इसे लेकर गृह विभाग के प्रमुख सचिव मलय श्रीवास्तव और सचिव विवेक शर्मा ने टीम के साथ नए भवन का मंगलवार को अवलोकन किया। फिलहाल अभी सिर्फ नगरीय विकास एवं पर्यावरण विभाग ही नए भवन में शिफ्ट हुआ है।

सुरक्षा के लिहाज से लगा रहे हैं:
सिक्योरिटी ऑडिट के बाद पुलिस मुख्यालय की ओर से सलाह दी गई, उसी के बाद 50 मिमी मोटाई वाले बुलेट प्रूफ कांच को लगाया जा रहा है, जो सुरक्षा के तमाम मानकों द्वारा टेस्ट किया हुआ होगा। निर्माणाधीन कंपनी इसे आयात कर रही है। इसे मंत्रालय के नए भवन की पांचवीं मंजिल की ऊंचाई तक उठाने के लिए हैवी क्रेन बुलाई जा रही है। 
सीएस जायसवाल, ईई, सीपीए
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week