किसान, युवा या बेटी, किसी की भी आंख में आंसू नहीं रहने दूंगा: शिवराज सिंह | MP NEWS

11 July 2018

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि मैं पहले अपने मध्यप्रदेश परिवार का सदस्य हूँ, बाद में मुख्यमंत्री हूँ। जनता का दुख मेरा दुख है और जनता का सुख मेरा सुख है। मैं किसान, मजदूर, युवा, बेटी हो या बुजुर्ग, किसी की भी आंख में आंसू नहीं रहने दूंगा। यह सरकार किसानों के लिए जो कुछ भी कर सकती थी वह अभी तक किया गया है और किसान चौपालों के माध्यम से किसानों के द्वारा उनके कल्याण के लिए जो भी सुझाव दिए जायेंगे उन पर अमल करते हुए अगले पांच साल का रोडमैप हम बनाने जा रहे है। हम अन्नदाता को सही अर्थो में दाता के रूप में स्थापित करने का संकल्प पूरा करेंगे। श्री शिवराजसिंह चौहान ने यह बात आज भोपाल के निकट ग्राम परवलिया सड़क में भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा द्वारा आयोजित किसान चैपाल को संबोधित करते हुए कही।

13 सालों में एक भी रात चैन से नहीं सोया: शिवराज सिंह

उन्होंने कहा कि मैं पिछले 13 सालों से एक भी दिन चैन से नहीं सोया हूँ। मुझे एक ही धुन सवार रहती है कि और अच्छा कैसे कंरू। उन्होंने उपस्थित किसानों से कहा कि वे ईमानदारी से तुलना करें कि पिछली कांग्रेस की सरकारें राहत के नाम पर कैसे बरताव करती थी और आज की सरकार किस प्रकार राहत देती है। उन्होंने किसानों से पूंछा कि आपको कितने प्रतिशत ब्याज पर ऋण मिलता था, किसानों ने जोरदार आवाज के साथ कहा 18 प्रतिशत। तब मुख्यमंत्री ने पुनः पूछा अब कितने प्रतिशत पर मिलता है तो सभी किसानों ने खड़े होकर कहा जीरो प्रतिशत पर। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के जमाने में किसानों को खाद के लिए डंडे खाने पड़ते थे और अब हमारी सरकार चार-चार महीने पहले ही किसानों को खाद उपलब्ध करा रही है। हमने संकल्प लिया है कि खेती को फायदे का धंधा बनाकर रहेंगे। इसलिए मैं प्रधानमंत्री जी का भी आभार व्यक्त करना चाहता हंू जिन्होंने खरीफ की फसलों का लागत का डेढ गुना समर्थन मूल्य घोषित करके देश में एक नई कृषि क्रांति की शुरूआत की है। प्रधानमंत्री जी की यह घोषणा किसान कल्याण के इतिहास में स्वर्णाक्षरों से लिखी जायेगी। उन्होंने कहा कि हमने इसी वर्ष में किसानों को अलग अलग प्रकार से 40 हजार करोड़ रूपए से अधिक की राशि वितरित की है। भविष्य में भी किसान की किसी भी फसल को कम कीमत पर नहीं बिकने दिया जायेगा क्योंकि किसान पसीना बहाकर फसलें उगाता है, इसलिए उसको उचित मूल्य देना कोई खैरात नहीं है। यह उसके पसीने की कीमत है।

कृषि से संबंधित कारखाने लगाएंगे: शिवराज सिंह
श्री शिवराजसिंह चौहान ने उपस्थित किसानों से अपील की कि वे सरकार की योजनाएं बनाने में अपना योगदान प्रदान करें और उस योगदान के लिए यह किसान चौपालें श्रेष्ठ माध्यम है। आप किसान मोर्चा के माध्यम से जो भी सुझाव पहुंचायेंगे उनका अध्ययन कर अगले पांच साल के रोड मैप में शामिल किया जायेगा। हमारी कोशिश है कि कृषि से संबंधित छोटे-छोटे कारखाने प्रदेश में लगाए जाए, जिससे किसानों के बेटा, बेटी उद्यमी बन सके। किसान युवा उद्यमी योजना किसानों के लिए वरदान सिद्ध होगी। किसान उद्यमी युवक के लिए 10 लाख से लेकर, 2 करोड़ रू. तक का कर्ज आसान शर्तों पर दिया जाएगा। कांग्रेस ने कभी इन बातों की कल्पना भी नहीं की होगी। हमारे किसान का उत्पाद निर्यात हो इसके लिए भी प्रयास किए जायेंगे। उन्होंने जोर देकर कहा कि जनता की तकलीफ दूर करे वही सरकार होती है, जो नहीं करे वह किस बात की सरकार। 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने असंगठित श्रमिक कल्याण योजना संबल के तहत हितग्राहियों को बिजली की बिल माफी और अन्य प्रकार की लाभ के प्रमाण पत्र वितरित किए। साथ ही उन्नत कृषि करने वाले कृषक बंधुओं का शाल श्रीफल से स्वागत किया। कार्यक्रम को किसान मोर्चा के अध्यक्ष श्री रणवीर सिंह रावत, स्थानीय विधायक श्री विष्णु खत्री ने भी संबोधित किया।

इस अवसर पर किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्री रणवीर सिंह रावत, विधायक श्री विष्णु खत्री, श्री मनमोहन नागर, श्री पदम सिंह, श्री अशोक मीणा, श्री गोपाल मीणा, श्री राजमल कुशवाह, श्री केदार सिंह मंडलोई, श्री जीतमल लेवा, श्री अशोक मीणा सम्राट सहित पार्टी और मोर्चा के वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित थे।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts