मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार नहीं करने दिया, क्योंकि नेताजी ने उद्घाटन नहीं किया | JABALPUR MP NEWS

27 July 2018

भोपाल। नेताओं की चालबाजियां और उद्घाटन की लालसाएं अक्सर आम आदमी के लिए सिरदर्द हो जातीं हैं। ग्राम कैलवास में लम्बी मांग के बाद मुक्तिधाम तो बन गया है लेकिन पिछले 1 साल से इसमें ताला डला हुआ है। कोई भी यहां अंतिम संस्कार नहीं कर सकता। यहां तक कि सरपंच भी कुछ नहीं कर पा रहा है क्योंकि जनपद पंचायत के ताकतवर सदस्य ने यह रोक लगाई है। वो श्मशान का विधिवत उद्घाटन करवाना चाहते हैं। पिछले 1 साल से उन्हे समय नहीं मिला इसलिए मुक्तिधाम को ही बंधक बना लिया। 

जबलपुर के पत्रकार श्री फतेह सिंह की रिपोर्ट के अनुसार दरअसल गांव में रहने वाले वाले रौशनलाल पटेल की हार्ट अटैक से मौत हो गई, परिजनों को मृतक का अंतिम संस्कार करना था लेकिन बारिश की आशंका के बाद भी उन्हें मुक्तिधाम मेें अंतिम संस्कार नहीं करने दिया गया। परिजनों और स्थानीय सरपंच के मुताबिक जनपद सदस्य राजकुमार झारिया ने उद्घाटन ना होने की बात पर मुक्तिधाम के शेड के नीचे अंतिम संस्कार नहीं करने दिया और परिजनों को अंतिम संस्कार मजबूरन खुले आसमान के नीचे करना पड़ा।

गांव में इस घटना और ऐसी व्यवस्था को लेकर ख़ासा आक्रोश है गांव की सरपंच का भी कहना है कि ग्रामीणों की मांग को देखते हुए उन्होंने मुक्तिधाम का इस्तेमाल करने देने की वकालत की थी लेकिन जनपद सदस्य ने अपनी दबंगई दिखाते हुए ऐसा नहीं होने दिया। वहीं दूसरी ओर मुक्तिधाम का उद्घाटन ना होने पर उसका इस्तेमाल ना करने देने वाले जबलपुर जनपद पंचायत के सदस्य राजकुमार झारिया कैमरे के सामने आने राज़ी नहीं हुए।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->