BSNL: इंटरनेट टेलीफोनी लांच, बिना सिम देश-विदेश में किसी भी नंबर पर कॉल फ्री

11 July 2018

नई दिल्ली। बीएसएनएल ने देश में पहली इंटरनेट टेलीफोनी सर्विस लॉन्च की है। इसके जरिए उपभोक्ता बिना सिम के ही देश-विदेश में किसी भी नंबर पर कॉल कर सकेंगे। बीएसएनएल के मोबाइल ऐप 'विंग्स' के जरिए ये सुविधा मिलेगी। इसे वाई-फाई से ऑपरेट कर सकेंगे। अब तक ऐप टू ऐप कॉलिंग की सुविधा थी, लेकिन अब एप से सीधे नंबर पर कॉल कर सकेंगे। इस सेवा के लिए रजिस्ट्रेशन इसी हफ्ते शुरू होंगे और ये 25 जुलाई से एक्टिवेट हो जाएगी। इसके लिए 1,099 रुपए सालाना फीस होगी जिसमें ग्राहकों को अनलिमिटेड कॉल फैसिलिटी मिलेगी।

दूरसंचार मंत्री मनोज सिन्हा ने बुधवार को इस सर्विस का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि प्रतिस्पर्धा के दौर में बीएसएनएल का ये कदम प्रशंसनीय है। इंटरनेट टेलीफोनी को लेकर भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) के प्रस्ताव को दूरसंचार मंत्रालय ने जून में मंजूरी दी थी।

दूसरे यूजर के पास ऐप होना जरूरी नहीं
इंटरनेट टेलीफोनी मोबाइल पर इंटरनेट की मदद से कॉल करने की टेक्नोलॉजी है। यह ऐप की मदद से काम करता है। इसमें इंटरनेट प्रोटोकॉल की मदद से कॉल की जाती है इसलिए इसे वॉयस ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल (वीओआईपी) तकनीक कहा जाता है। वॉट्सऐप और स्काइप के जरिए कॉलिंग भी इसके उदाहरण हैं, लेकिन दोनों यूजर के पास ये ऐप होने जरूरी हैं। बीएसएनएल के ऐप से कॉलिंग करने पर ये जरूरी नहीं होगा।

इंटरनेट टेलीफोनी में मोबाइल से निकलने वाले एनालॉग सिग्नल यानी वॉइस को डिजिटल डेटा पैकेट के रूप में ट्रान्सफर किया जाता है। ये डेटा पैकेट इंटरनेट की मदद से ट्रान्सफर होते हैं। इस प्रक्रिया में पैकेट ट्रान्सफर के लिए सबसे छोटे रूट को चुना जाता है और डेस्टिनेशन नंबर पर पहुंचते ही ये डेटा पैकेट एनालॉग में कन्वर्ट हो जाते हैं। इंटरनेट टेलीफोनी में मोबाइल नंबर एक वेबसाइट की तरह काम करते हैं। इसमें कॉल करने वाले की पहचान इंटरनेट प्रोटोकॉल (आईपी) एड्रेस की मदद से की जाती है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts