अमरनाथ यात्री जम्मू में फंसे, बेसकेंप में भारी भीड़ | Amarnath Yatra Live News

08 July 2018

नई दिल्ली। खबर आ रही है कि जम्मू बेस केंप में बड़ी संख्या में अमरनाथ यात्री फंसे हुए है। खराब मौसम के कारण उन्हे आगे नहीं बढ़ने दिया जा रहा है। करीब 4 दिनों से कोई टिकट जारी नहीं किया गया है। न्यूज ऐजेंसी ANI के अनुसार Amarnath Yatra pilgrims stranded at Jammu base camp, say, "we have been waiting for 3-4 days, no tickets have been issued to us to proceed further, there is a lot of rush here. Authorities cite bad weather as the reason for the delay. We hope the pilgrims are sent ahead soon."


बुरहान वानी के कारण अमरनाथ यात्रा रोकी

जम्मू की लोकल मीडिया से खबर आ रही है कि घाटी में आज आतंकी बुरहान वानी की बरसी पर किसी अनहोनी के अंदेशे को देखते हुए अमरनाथ यात्रा रोक दी गई है। आधार शिविर भगवती नगर जम्मू से भी रविवार को जत्था नहीं भेजा जाएगा। बालटाल से शनिवार चौथे दिन यात्रा बहाल की गई। पारंपरिक पहलगाम ट्रैक से भी यात्रियों को भेजा गया। दूसरी ओर आधार शिविर जम्मू से पहलगाम रूट से 2203 श्रद्धालुओं को भेजा गया, लेकिन बालटाल रूट के यात्रियों को नहीं भेजने पर उन्होंने हंगामा किया। जम्मू से नगरोटा तक जाम के साथ यात्रियों ने विरोध जताया। इस बीच 10107 शिव भक्तों ने शनिवार को दसवें दिन बाबा बर्फानी के दर्शन किए। इसके साथ यह आंकड़ा 83130 तक पहुंच गया है। 

बालटाल और पहलगाम हवाई मार्ग चापर सेवा से यात्रा जारी है। मौसम साफ होने पर बालटाल से सुबह 2200 यात्रियों के जत्थे को रवाना किया गया। पिछले दिनों मूसलाधार बारिश, भूस्खलन से बालटाल ट्रैक को कई जगह नुकसान पहुंचा है, जिसे युद्धस्तर पर दुरुस्त किया जा रहा है। 

जिला आयुक्त गांदरबल पीयूष सिंगला ने बताया कि बालटाल के रास्ते अमरनाथ गुफा की ओर यात्रा बहाल की गई है। यात्रियों की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। यात्रा रुकने की सूरत में जम्मू संभाग के विभिन्न हिस्सों में हजारों यात्रियों को रोका गया है। 

पंजतरणी में लगाया माइक्रो एटीएम
श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड के चेयरमैन व राज्यपाल ने निर्देश पर यात्रियों को नकद सुविधा के लिए जेएंडके बैंक की ओर से माइक्रो एटीएम को एयरलिफ्ट करके पंजतरणी में स्थापित किया गया है। बालटाल और नुनवान यात्रा बेस कैंप में भी एटीएम सुविधा उपलब्ध है। रेल पथरी और बारीमार्ग के बीच कई हिस्सों के क्षतिग्रस्त होने के कारण सभी जरूरी प्रबंध किए जा रहे हैं। 

पंजतरणी से दूसरे दिन 241 यात्री निकाले गए
वायु सेना के एमआई-17 हेलीकाप्टर से पंजतरणी में फंसे यात्रियों को निकालने के लिए शनिवार दूसरे दिन भी रेस्क्यू आपरेशन चलाया गया। इसमें 241 यात्रियों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया। पिछले दो दिन में 567 यात्रियों को निकाला जा चुका है। भूस्खलन और ट्रैक के क्षतिग्रस्त होने से इन श्रद्धालुओं को पंजतरणी में रोका गया था।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week