अतिथि शिक्षकों ने पूर्वमंत्री पटेल को दिया ज्ञापन, मिला आश्वासन

05 June 2018

भोपाल। आम अतिथि शिक्षक संघ मध्यप्रदेश का प्रतिनिधिमंडल ने प्रांतीय अध्यक्ष गजराज सिंह गौर के नेतृत्व में पूर्व राजस्व मंत्री कमल पटेल के निवास बारंगा में पहुंचकर भेंटवार्ता की और मुख्यमंत्री के नाम पाँच सूत्रीय ज्ञापन पत्र सौंपा। आम अतिथि शिक्षक संघ द्वारा अतिथि शिक्षकों की मांगों और समस्याओं के सम्बंध में श्री पटेल को अवगत कराया गया। समस्याओं के जल्द निराकरण हेतु तत्काल पूर्व राजस्वमंत्री कमल पटेल ने दूरभाष पर दीपक जोशी राज्य मंत्री तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास (स्वतंत्र प्रभार) स्कूल शिक्षा एवं रमेशचंद्र शर्मा अध्यक्ष कर्मचारी कल्याण समिति से चर्चा कर जानकारी ली, और आश्वस्त किया कि जल्द ही आम अतिथि शिक्षक संघ के प्रतिनिधि मंडल के साथ मुख्यमंत्री से मुलाकात कर समस्याओं एवं माँगो से अवगत कराकर निराकरण कराया जायेगा।

श्री पटेल ने आश्वस्त किया कि अतिथि शिक्षकों का आरक्षण कम से कम 50 प्रतिशत और विभागीय पात्रता परीक्षा शीघ्र कराने तथा एनआईओएस के माध्यम से अतिथि शिक्षकों को भी डीएलएड कराने की मांग को जल्द पूर्ण कराने के लिए पूर्ण प्रयास करेंगें। दिये गए पाँच सूत्रीय ज्ञापन में संगठन ने बताया कि मध्यप्रदेश की शासकीय शालाओं में विगत 10 वर्षों से अतिथि शिक्षक अल्पतम मानदेय पर अपनी सेवाएं देते आ रहें है। तथा अपना कार्य पूर्ण निष्ठा के साथ कर रहे है, और भविष्य में भी करने के लिए वचनबद्ध है। आम अतिथि शिक्षक संघ द्वारा की गई मांगे इस प्रकार है-

1. 3 शैक्षणिक सत्र पूर्ण कर चुकें प्रशिक्षित अतिथि शिक्षकों को एवं 5 सत्र पूर्ण कर चुके अप्रशिक्षित अतिथि शिक्षकों को विभागीय पात्रता परीक्षा लेकर शिक्षक बनाया जावे।
2. 1-3 वर्ष दे चुके अतिथि शिक्षकों को बोनस अंक दिये जावें।
3. एनआईओएस के माध्यम से अप्रशिक्षित अतिथि शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जावे।
4. आगामी सत्र से 12 माह तक सेवा काल वेतन वृद्धि के साथ किया जावे।
5. पात्रता परीक्षा में 25 प्रतिशत आरक्षण को शत प्रतिशत किया जावे।

ज्ञापन देते समय ये थे मौजूद
इस मौके पर ज्ञापन देते समय आम अतिथि शिक्षक संघ मध्यप्रदेश के प्रांतीय अध्यक्ष गजराज गौर,प्रांतीय उपाध्यक्ष विवेक गुप्ता,अंकित अवस्थी,प्रचार मंत्री भूपेंद्र दशोरे,कोषाध्यक्ष अविनाश राजपूत,अतिथि शिक्षक लोकेश राय, योगेश सेजकर,विनय गुर्जर,विनोद मंडरे,रेवाशंकर विश्नोई,दुर्गाप्रसाद गौर,रामजीवन दमाड़े, विष्णुप्रसाद मीणा,राजेन्द्र विश्नोई सहित अन्य अतिथि शिक्षक मौजूद थे।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week