शिवराज सिंह के खिलाफ महिला आरक्षक उम्मीदवार उपवास पर बैठीं

11 June 2018

भोपाल। सीएम शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर उनके द्वारा की गई घोषणा में फंसते नजर आ रहे है। सीएम ने पुलिस आरक्षक भर्ती में महिलाओं को लंबाई में छूट देने की घोषणा की थी। हाल ही में हुई भर्ती में उनकी घोषणा पर अमल नहीं हुआ है। ऐसे में भर्ती की उम्मीदवार महिलाएं सीएम से मिलने की मांग को लेकर दो दिन के उपवास पर बैठ गई हैं। सीएम शिवराजसिंह ने 8 अक्टूबर 2017 को घोषणा की थी कि महिला आरक्षक की भर्ती में उम्मीदवारों को शारीरिक लंबाई में छूट दी जाएगी। लेकिन जब भर्ती परीक्षा का परिणाम आया तो इन उम्मीदवारों को छूट नहीं मिली। 

काफी परेशान होने के बाद जब उनकी मांग नहीं सुनी गयी तो महिला उम्मीदवारों ने आज से भोपाल के शाहजहांनी पार्क में दो दिन का उपवास और सत्याग्रह शुरू कर दिया। वहीं जब इनको मनाने के लिये पुलिस और प्रशासन के अधिकारी पहुंचे तो उन्होंने साफ इन्कार करते हुये सीएम से मिलने की मांग पर अड़ी हुई है। 

वहीं इस पूरे मामले को लेकर पुलिस अधिकारियों ने महिला उम्मीदवारों को बताया कि मुख्यमंत्री की घोषणा को अमलीजामा पहनाने के लिए प्रस्ताव फिलहाल गृह विभाग में हैं और उस पर जल्द मुहर लग जाएगी। लेकिन महिला उम्मीदवार इस बात पर अडी रही कि जब तक सीएम शिवराजसिंह खुद आकर हम लोगों से नहीं मिलेंगे, तब तक उनका उपवास जारी रहेगा।

हाथ जोड़कर विनती है कि हमारी मांग पूरी कर दीजिये मामा जी
आंदोलनकारी महिला उम्मीदवारों का नेतृत्व कर रही प्रीति शर्मा ने बताया कि हमारी मामा जी से हाथ जोडकर विनती है कि घोषणा पूरी कर दीजिए। क्योकिं महिला आरक्षक के लिए 158 सेमी की लंबाई चाहिए होती है, जिसमें सीएम ने रियायत दी जाने की घोषणा की थी लेकिन, हम महिला उम्मीदवारों को एक- दो सेमी कम होने के कारण मेडीकल में अयोग्य घोषित कर दिया गया है। इसलिये हमारी मांग है कि महिला उम्मीदवारों के लिए शारीरिक लंबाई की सीमा 155 सेमी तय किया जाए। प्रीति का कहना है कि जब तक मामा जी अपनी घोषणा पूरा करने हमारे पास नहीं आएंगे, तब तक हम नहीं उठेंगे। 
BHOPAL SAMACHAR | HINDI NEWS का 
MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए 
प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->