शांति-गया साहित्य पुरस्कार घोषित | Literature award

10 April 2018

गया प्रसाद खरे स्मृति साहित्य, कला एवं खेल संवर्द्धन मंच के तत्वावधान में संस्थित शांति-गया पुरस्कारों की घोषणा मंच के संयोजक श्री अरुण अर्णव खरे, उपाध्यक्ष श्री घनश्याम मैथिल अमृत एवं प्रचार सचिव श्री शोएब सिद्दीक़ी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए की। चार श्रेणियों में दिए जाने वाले साहित्यक पुरस्कारों में रु २१००/- का उपन्यास विधा का पुरस्कार कन्नौज के सुलभ अग्निहोत्री को “पूर्व पाठिका” पर, कहानी विधा में शुजालपुर के डॉ गोपाल नारायण आवटे को “ज़िंदगी ख़ूबसूरत है” पर, व्यंग्य विधा में रायपुर की डॉ. स्नेहलता पाठक को “व्यंग्यकार का वसीयतनामा” पर तथा कविता में लखनऊ की गीता कैथल को “मँझधार में संवेदना” पर दिया जाएगा। 

इनके साथ ही ११००/- के द्वितीय पुरस्कार सर्व श्री सुरेंद्र नायक (नेफ्रो वार्ड), नई दिल्ली के किशोर श्रीवास्तव (कही अनकही), भोपाल को गोकुल सोनी (सारे बगुले संत हो गए), डॉ. देवी प्रसाद पाण्डे (क्रांति केशरी), जबलपुर के आचार्य संजीव सलिल (), अहमदाबाद की प्रीति अज्ञात (मध्यान्तर), नई दिल्ली के रामकिशोर उपाध्याय (दीवार में आले) तथा जांजगीर के विजय राठौर (दर्द की अंतर्कथा) को दिए जाएंगे। 

इंदौर के अनिल वर्मा को क्रांतिकारी बटुकेश्वर दत्त के जीवन चरित्र  पर आधारित पुस्तक के लिए विशेष पुरस्कार प्रदान किया जाएगा । ग़ाज़ियाबाद के व्यंग्यकार श्री श्रवण कुमार उर्मलिया को शिखर सम्मान से सम्मानित किया जाएगा । ये सम्मान स्मृति शेष गया प्रसाद खरे के जन्मदिन २ जून को भोपाल में दिए जाएंगे।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts