हर तरह की खुजली का इलाज आपकी रसोई में | ETCHING AYURVEDA

30 April 2018

खुजली त्‍वचा रोग (SKIN DISEASE) है, जिससे व्‍यक्ति काफी परेशान, निराश और चिड़चिड़ा हो जाता है। इसलिए इसको दूर करने के उपाय (TREATMENT) करना बहुत जरूरी होता है। तो आइए, कुछ घरेलू (AYURVEDIC) उपायों द्वारा खुजली को दूर करें। शरीर में खुजली होने के कई कारण होते हैं जैसे किसी खाद्य पदार्थ या दवा से एलर्जी, त्वचा का रूखा होना, ठीक से न नहाना, गंदे कपड़े पहनना, मच्छर या अन्य कीट के काटने पर, कोई चर्म रोग या पेट में कीड़े होने आदि पर खुजली की समस्या हो सकती है। रिसर्च के अनुसार, शरीर में इम्‍यून सिस्‍टम में गड़बड़ी के कारण भी खुजली हो जाती है। लेकिन खुजली होने पर किसी भी काम में मन नहीं लगता, इंसान चिड़चिड़ा हो जाता है। इसलिए इसको दूर करने के उपाय करना बहुत जरूरी होता है। तो आइए, कुछ घरेलू (आयुर्वेद) उपायों द्वारा खुजली को दूर करें।

नींबू का रस मलिए 
विटामिन सी से समृद्ध और ब्‍लीचिंग प्रकृति के कारण नींबू खुजली वाली त्‍वचा के लिए सबसे अच्‍छे उपायों में से एक है। नींबू में मौजूद वाष्पशील तेल में उत्तेजना को सुन्‍न करने की क्षमता होती है जिसके कारण यह जलन और सूजन को दूर करने में मदद करता है। इसके लिए नींबू को काटकर उसके रस को खुजली वाली जगह पर मलने से हर तरह की खुजली से छुटकारा मिलता है।

तुलसी के पत्ते रगड़ें
तुलसी के पत्ते थीमोल और कपूर से समृद्ध होने के कारण, इनमें त्वचा की जलन को कम करने की क्षमता होती है। खुजली होने पर तुलसी के कुछ पत्तों को लेकर उन्‍हें प्रभावित क्षेत्र पर रगड़ें। या तुलसी के पत्तों की चाय बनाकर उसे खुजली वाले स्‍थान पर लगाये।

एलोवेरा से मॉइस्चराइज करें 
अपने मॉइस्चराइजिंग गुणों के कारण एलोवेरा त्‍वचा के लिए वरदान होता है। खुजली वाले स्‍थान पर एलोवेरा के जैल को रगड़ने से यह त्वचा की जलन को कम करने में मदद करता है और खुजली से जल्दी ही राहत प्रदान करता है। इसके लिए घर में लगे एलोवेरा के पौधे की पत्‍ती को काट लें और उसमें से निकलने वाले जेल को खुजली वाली जगह पर लगा लें।

सेब का सिरका
बहुत से लोग सिर में रूसी को दूर करने के लिए सिरके का उपयोग करते हैं, इसी तरह से यह खुजली वाली त्‍वचा के लिए भी अच्‍छी तरह से काम करता है। इसमें मौजूद एंटीसेप्टिक और एंटीफंगल गुण, इसे खुजली विरोधी एजेंट बनाता है। खुजली वाले स्‍थान पर रूई की सहायता से सेब के सिरके को लगाने से फायदा होता है।

शुष्क त्वचा है तो नारियल तेल
खुजली वाली त्‍वचा के लिए नारियल को तेल बहुत अच्‍छा होता है। शुष्‍क त्‍वचा या मच्‍छर के काटने पर होने वाली खुजली के‍ लिए तो नारियल को तेल अद्भुत काम करता है। प्रभावित क्षेत्र पर सीधा इसे लगाना नारियल के तेल को इस्तेमाल करने का सबसे अच्छा तरीका है।

कीड़े ने काटा तो पुदीना
पुदीना कीड़े के काटने और खुजली के लिए बहुत अच्‍छा होता है। यह शीतल संवेदना प्रदान कर आपको तुरंत राहत का अनुभव करता है। इसकी पत्तियों को मसलकर सीधे खुजली वाले स्‍थान पर रगड़ना पुदीने को लगाने का सबसे आसान और तेज तरीका है।

बेकिंग सोडा
बेकिंग सोडा खुजली वाली त्‍वचा के लिए सबसे आम घरेलू उपाय है। यह सभी प्रकार की खुजली के लिए फायदेमंद होती है। इसमें मौजूद सुखदायक और एंटी-इफ्लेमेंटरी गुण प्राकृतिक एसिड नूट्रलाइजर (निष्प्रभाव करना) के रूप में कार्य करता है। इसके इस्‍तेमाल के लिए बेकिंग सोडा के तीन भाग मिश्रण में एक भाग पानी मिलाकर पेस्‍ट तैयार करके प्रभावित त्‍वचा पर लगाये।

ओटमील
ओटमील में मौजूद एंटी ऑक्‍सीडेंट तत्‍व, एंटी उत्तेजक तत्‍व और सुखदायक प्रभाव के कारण यह खुजली से राहत देने में मदद करता है। इसको इस्‍तेमाल करने के लिए ओटमील में पानी मिलाकर पेस्‍ट बना लें। इस पेस्‍ट को खुजली वाले स्‍थान पर 20 से 30 मिनट के लिए लगाये।

चन्‍दन
चन्‍दन और काली मिर्च भी खुजली से राहत दिलाने का बहुत आसान और असरकारी तरीका है। इसके लिए चन्दन और काली मिर्च को पीसकर महीन पेस्‍ट बना लें। इस पेस्‍ट को खुजली वाली स्‍थान पर लगा लें।

दालचीनी
दालचीनी के पत्ते त्वचा के हर रोग के उपचार के लिए उपयोगी माने जाते हैं। रिंग वर्म से हो रही खुजली को दूर करने के लिए इसका रस या पेस्‍ट प्रभावित स्‍थान पर लगाने से काफी फायदा मिलता है।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week