Loading...

BHOPAL TRAVELS की चलती बस में दिल्ली की महिला के गैंगरेप की कोशिश | CRIME NEWS

INDORE SAMACHAR | भोपाल-इंदौर हाईवे पर दौड़ती लक्झरी बस में बदमाशों ने दिल्ली की महिला के साथ गैंगरेप करने की कोशिश की। बदमाशों ने पहले तो महिला को अश्लील इशारे किए, फिर उसके साथ गंदी हरकतें करने लगे। यह सबकुछ महिला के पति के सामने किया गया। चौंकाने वाली बात यह है कि शोर मचाने के बावजूद ना तो स्टाफ ने बस रोकी और ना ही यात्रियों ने मदद की। जब पति ने फोन से डायल 100 को सूचना दी तो बस कंडक्टर ने बदमाशों को बस से उतारकर भगा दिया। मामले की शिकायत विजयनगर थाने में की गयी है। 

दिल्ली की रहने वाली महिला अपने पति के साथ भोपाल आई थी। वहां से वह अपने पति के साथ रिश्तेदार के यहां देर रात भोपाल ट्रेवल्स की बस से इंदौर आ रही थी। बस में ही आष्टा से 4 बदमाश सवार हुए, उन्होंने सोनकच्छ के पास महिला के साथ अश्लील हरकत की। बदमाशों की हरकत का विरोध करते हुए, महिला ने शोर मचाया। महिला के शोर के बाद बस में हंगामा हो गया। हंगामा और विवाद होता देख बस कंडक्टर ने बदमाशों को देवास के नजदीक बस से उतार दिया। महिला का पति बस को पुलिस थाने ले जाने की मांग करता रहा, लेकिन ड्राइवर बस को थाने नहीं ले गया।

पीड़िता के पति ने डायल 100 को दी सूचना
आगे की पुलिस चौकी पर बस ले जाई गई, लेकिन वहां पुलिसकर्मी नहीं मिले। इस दौरान बदमाशों ने अपने साथियों को कॉल कर दिया। उनके साथी देवास के पहले पहुंचे और उन्हें बस से उतारकर ले गए। घटना की जानकारी महिला के पति ने डायल 100 पर दी। इसके बाद पुलिस ने बस की जानकारी ली। तब तक बस इंदौर के बायपास स्थित टोल नाका क्रॉस कर चुकी थी।

CCTV फुटेज आधार पर बदमाशों की तलाश
लसुडिया और विजयनगर पुलिस ने विजय नगर चौराहे के पास घेराबंदी कर बस को रोक लिया। जांच अधिकारी राज लल्लन मिश्रा ने वताया कि, बस कंडक्टर चला रहा था जो कि शराब के नशे में था। पीड़िता की शिकायत पर विजयनगर थाने में प्रकरण दर्ज कर लिया गया है। देवास पुलिस से संपर्क कर सीसीटीवी फुटेज के आधार पर उन बदमाशों की तलाश कर रही है।

बस में यात्री 50, बदमाश 4 फिर भी सब चुप रहे
बस में 50 से भी अधिक यात्री मौजूद थे। बदमाश चार ही थे, लेकिन किसी ने भी बदमाशों को रोकने का प्रयास नहीं किया। इंदौर आने के बाद बस रोकने पर यात्री भी एक घंटे तक परेशान होते रहे। कार्रवाई पूरी होने के बाद पुलिस ने बस को रवाना किया।