BU: कर्मचारी हड़ताल के कारण छात्रों का पूरा साल बर्बाद | MP NEWS

Sunday, March 25, 2018

भोपाल। BARKATULLAH UNIVERSITY में 18 दिन से कर्मचारियों का हड़ताल जारी है। ऐसे में विश्वविद्यालय के प्रशासनिक कार्य ठप्प पड़े हैं। वहीं विश्वविद्यालय में 1st ईयर की परीक्षा 31 मार्च से घोषित की गई है। इस संबंध में कोई तैयारी नही की जा रही है, जिससे परीक्षा आयोजित करने संदेह जताया जा रहा है। जिससे बीयू में पढ़ने वाले छात्र एक साल पीछे होने की संभावना जताई जा रही है। कुछ कॉलेजों के थर्ड सेमेस्टर का रिजल्ट अभी तक घोषित नहीं किया गया है। जिससे अगला सेमेस्टर भी लेट हो सकता है। 

रविवार को भी मप्र विश्वविद्यालयीन महासंघ की ओर से बीयू कर्मचारी प्रशासनिक भवन के मुख्य गेट पर धरना देकर बैठे रहे। आंदोलन स्थल पर कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सुधीर ठाकरे ने कहा कि जबतक मांगों की पूर्ति नहीं होती है, तब तक आंदोलन जारी रहेगा। प्रांतीय महासचिव लखन सिंह परमार ने कहा कि अगर हड़ताल खत्म नहीं होता है तो किस तरह से परीक्षा आयोजित कराई जाएगी। अभी तक परीक्षा की तैयारी नहीं की गई। इससे सभी विश्वविद्यालयों के 10 से 12 लाख छात्र-छात्राओं के भविष्य के प्रति शासन का कोई ध्यान नहीं जा रहा है। वहीं करीब 1 हजार विद्यार्थियों की डिग्री और माइग्रेशन के अभाव में नौकरी और विदेश में पढ़ाई करने जाने वाले विद्यार्थियों का भविष्य भी अधर में लटका है।

तीन साल पुरानी है कर्मचारियों की मांगें
कर्मचरियों ने अपनी 19 सूत्रीय मांगों को लेकर 18 दिनों से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू की है। शासन को विद्यार्थियों के भविष्य की कोई चिंता नही है, तभी तो वे कर्मचारियों की हड़ताल की ओर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं। कर्मचारियों की यह मांगे तीन साल हड़ताल को सिर्फ आश्वासन देकर खत्म करा दिया गया था। कर्मचरियों का कहना है कि इस बार ऐसा नहीं होगा जब तक लिखित आदेश नहीं मिलेगा, तब तक हड़ताल समाप्त नही होगी।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week