अमेरिका: आबादी से ज्यादा बंदूकें, 64% लोगों की मौत बंदूक से, मोबाइल से सस्ती गन | CRIME NEWS

26 March 2018

भोपाल समाचार डेस्क। आपने भारत के चंबल का नाम सुना होगा। एक वक्त था जब चंबल में हर नागरिक के पास बंदूक हुआ करती थी। यदि घर में 5 पुरुष हैं तो 6 बंदूकों होतीं थीं। 5 बंदूक 5 पुरुषों के लिए और 1 घर में रह रहीं महिलाओं के लिए। उस क्षेत्र में आत्मरक्षा के लिए हथियार अनिवार्य था। बंदूक होने के बावजूद वहां हत्याएं हो जातीं थीं और लोगों की मौत का कारण बंदूक होती थी। ऐसी ही स्थिति अमेरिका की भी है। बताया जाता है कि अमेरिकी नागरिकों के पास जितनी बंदूकें हैं। उतनी दुनिया के किसी भी राष्ट्र के नागरिकों के पास नहीं है। यह कहना भी गलत नहीं होगा कि अमेरिका दुनिया का सबसे बड़ा बंदूकबाज राष्ट्र है। 

अमेरिका के फ्लोरिडा में एक स्कूल में हुई गोलीबारी के बाद गन कल्चर के नियंत्रण को लेकर वॉशिंगटन में सबसे बड़ा प्रदर्शन किया गया। लाखों लोगों ने इस विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया। बताया जा रहा है कि इस विरोध में 5 लाख से अधिक लोगों ने हिस्सा लिया था। अमेरिका में बंदूक से जुड़े नियम जानने से पहले आपको बता दें कि अमेरिका में 64 फीसदी लोग बंदूक से मारे जाते हैं। हाल ही में सामने आई एक रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका में हर साल बंदूक से करीब 13 हजार लोग मार जाते हैं। वहीं इंग्लैंड में 4.5 फीसदी, कनाडा में 30.5 फीसदी, ऑस्ट्रेलिया में 13 फीसदी लोग बंदूक की गोली से मरते हैं।

आइए जानते हैं अमेरिका में बंदूक से जुड़े कानून क्या हैं और उससे जुड़े कई अहम आंकड़ें...
अमेरिका के नेवादा के संविधान के मुताबिक हर नागरिक को अपनी सुरक्षा और बचाव के लिए बंदूक रखने का अधिकार है। साथ ही देश में 21 साल से अधिक उम्र के लोग आसानी से बंदूक खरीद सकते हैं। 
वहीं 18 साल की उम्र के बाद नागरिक 'लॉन्ग गन' खरीद सकते हैं। हालांकि ऐसा नहीं है कि अमेरिका में किसी भी अन्य सामान की तरह आप बंदूक खरीद सकते हैं, इसके लिए कई शर्तें होती है।
यहां भी मानसिक रूप से बीमार या किसी अपराध के लिए एक साल से ज्यादा सजा पा चुका शख्स बंदूक नहीं खरीद सकता। नागरिकों के इस्तेमाल के लिए ऑटोमैटिक हथियारों का निर्माण भी गैरकानूनी है। बंदूक को लेकर केंद्र और अलग अलग राज्यों ने अपने अपने नियम कायदे बना रखे हैं।
अमेरिका में बंदूक के लिए लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं है। इतना ही नहीं यहां बंदूकों की संख्या की भी कोई सीमा नहीं है। यहां एक समय में एक घर में कोई शख्स कितनी भी बंदूकें रख सकता है। बता दें कि यहां हर 100 लोगों में से करीब 89 लोगों के पास बंदूकें हैं।

जनसंख्या से ज्यादा बंदूकें
साल 2015 में वॉशिंगटन पोस्ट की एक रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका में जनसंख्या से ज्यादा बंदूकें हैं। जहां 2013 में अमेरिका की जनसंख्या 31 करोड़ 70 लाख थी, वहीं आम नागरिकों के पास बंदूकों की संख्या उससे ज्यादा यानि 35 करोड़ 70 लाख थी।
बंदूक की इतनी ज्यादा तादाद से अंदाजा लगाया जा सकता है कि अमेरिका में गन को हासिल करना नागरिकों के लिए बहुत मुश्किल काम नहीं है।

हालांकि अमेरिका के कई राज्यों में बंदूक लेकर कड़े कानून है। शोध से पता चलता है कि अमेरिका के जिन राज्यों में बंदूक से जुड़े कानून सख्त हैं, वहां इससे जुड़ी मौतें भी कम हैं। आम नागिरक की पहुंच वाले हथियारों से जुड़े कानून जहां तगड़े हैं, वहीं इससे होने वाली हिंसा भी कम देखी जाती है।

बता दें कि अमेरिका में हर साल गन मैन्युफैक्चरिंग का 13.5 बिलियन डॉलर का व्यापार होता है और इसमें करीब 1.5 बिलियन डॉलर का फायदा होता है। वहीं गन स्टोर से 478.4 मिलियन डॉलर का मुनाफा होता है। साल 2013 में 10,847,792 बंदूके बनीं, जिसमें पिस्टल, रिवॉल्वर, शॉटगन आदि शामिल है। यूएस में एक असॉल्ट राइफल की कीमत करीब 1500 डॉलर है जो कि मैकबुक से भी कम है। वहीं एक हैंड गन की कीमत 200 डॉलर है, जिससे आसानी से एक लैपटॉप खरीदा जा सकता है।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->