मंत्रालय में मंत्रियों को घुसने नहीं दिया, विधायक को धक्के देकर भगाया | NATIONAL NEWS

Tuesday, February 20, 2018

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के चीफ सेक्रेटरी से बदसलूकी करना केजरीवाल के विधायकों और मंत्रियों पर भारी पड़ने लगा है। कल तक जो शान से दिल्ली सेक्रेटेरियट के अंदर जाते थे वो आज दरवाजे से ही वापस लौट रहे हैं। दिल्ली में गुस्साए सरकारी अधिकारियों ने मंगलवार को किसी भी मंत्री और विधायक को सचिवालय में अंदर घुसने नहीं दिया है। वहीं मंत्री इमरान हुसैन को भी अधिकारियों ने गेट पर ही रोक दिया। जिसके बाद केजरीवाल सरकार के मंत्री सचिवालय गेट से ही वापस लौट गए हैं।

आशीष खेतान के साथ धक्का-मुक्की हुई
वहीं न्यूज एजेंसी के मुताबिक दिल्ली सचिवालय पहुंचे आप नेता आशीष खेतान के साथ धक्का-मुक्की का मामला सामने आया है। वहीं नाराज आशीष खेतान ने पुलिस भी बुला ली। वैसे माहौल की गंभीरता को समझते हुए सचिवालय में फिलहाल फोर्स तैनात कर दिया गया है। साथ ही मीडिया पर भी बैन लगा दिया गया है।

विपक्ष हुई हमलावर
इस बीच विपक्षी दल भी आप सरकार पर हमलावर हो गई है। भाजपा और चीफ सेक्रेटरी मामले को लेकर लेफ्टीनेंट गवर्नर के पास पहुंच गए हैं। वहीं आप विधायकों ने भी मामले की शिकायत पुलिस में दर्ज करा दी है

संबित पात्रा ने बोला हमला
वहीं इस घटना के बाद भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि जो केजरीवाल अपने आप को अराजक कहते थे, उन्हें अपनी कुर्सी पर रहने का कोई अधिकार नहीं है। आज दिल्ली में जिस प्रकार की स्थिति है वह निंदा के पात्र है। मुख्यमंत्री के इशारे पर अगर मुख्य सचिव के ऊपर हिंसा की जाती है उसकी निंदा की जाती है। दिल्ली पर एक संवैधानिक क्राइसिस है। आम आदमी पार्टी एक अराजकता की पार्टी है। कार्यप्रणाली और सरकार के बीच जो विवाद हुआ है आंतरिक सूत्र बताते है कि अरविंद केजरीवाल के विज्ञापन को लेकर विवाद हुआ न कि जनता की भलाई के लिए।

सीएम द्वारा हिंदी में गाली दी गई
उन्होंने आगे कहा कि सुप्रीम के निर्देश के अनुसार जब मुख्य सचिव ने सीएम की बात नहीं मानी, उसके बाद सीएम द्वारा हिंदी में गाली दी गई और अन्य विधायक ने हाथापाई की। रक्षक ही भक्षक बन गए हैं। राष्ट्रपति शासन लगाना सरकार का विषय है। हम पार्टी के तौर पर नैतिकता के आधार पर इस्तीफा की मांग करते हैं।

सरकार है या सर्कस: स्वराज इंडिया 
वहीं स्वराज इंडिया ने आम आदमी पार्टी और दिल्ली के मुख्य सचिव के बीच चल रहे विवाद को बेहद शर्मनाक बताया है। पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनुपम ने कहा कि यह पहली बार नहीं है कि ऐसी घटनाएं उजागर हुई हैं। अनुपम के मुताबिक मुख्यमंत्री सरकार नहीं सर्कस चला रहे हैं। 

स्वराज पार्टी के मुताबिक आम आदमी पार्टी के सदस्यों और उसके सुप्रीमो केजरीवाल ने अधिकारियों के खिलाफ पहले भी झूठे आरोप लगाए हैं और वरिष्ठ नौकरशाहों का अपमान किया है। जो दर्शाता है कि केजरीवाल को नाटक पसंद है। मुद्दों से भटकने के लिए ऐसे नाटक जानबूझ कर किए जाते हैं।

IAS एसोसिएशन करेगा कैंडल मार्च
वहीं मंगलवार शाम 6 बजे आईएएस एसोसिएशन राजघाट में कैंडल मार्च करेंगे। IAS एसोसिएशन ने भी मीटिंग की है। दिल्ली को मुख्य रूप से संचालित करने वाले DAS और IAS दानिक्स के अधिकारियों ने काम ठप कर दिया है। दास कैडर के करीब 5 हजार अधिकारी दिल्ली सरकार में हैं।

क्या है पूरा मामला
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर मुख्य सचिव अंशु प्रकाश से आप विधायकों की हाथापाई का मामला दिल्ली में गरमाया हुआ है। दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश ने आप के दो विधायकों पर हाथापाई और बदसलूकी का आरोप लगाया है। अंशु प्रकाश के मुताबिक सोमवार शाम केजरीवाल के सामने ही आप विधायकों ने उन्हे थप्पड़ मारा और अपशब्द कहा।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week