मप्र के 4 जिलों के BJP दिग्गजों में ठनी रार | MP NEWS

20 February 2018

भोपाल। यह कुछ कुछ दक्षिण भारत जैसा है, जहां तमिल, तेलुरू और कन्नड के नेता आपस में उलझते रहते हैं और खुद को सर्वश्रेष्ठ मानते हैं। बुंदेलखंड के 4 जिलों में भी कुछ ऐसा ही हो रहा है। इन जिलों में रहने वाले ​भाजपा के दिग्गज नेता, विधायक, सांसद और मंत्री आपस में उलझे हुए हैं। अब खेल शक्तिप्रदर्शन का हो गया है। जो ताकतवर होगा मेडिकल कॉलेज ले जाएगा। जी हां, लड़ाई मेडिकल कॉलेज को लेकर हो रही है। मेडिकल कॉलेज अब क्षेत्रीय मुद्दा बनता जा रहा है। निश्चित रूप से भाजपा के गले की हड्डी कम से कम 3 जिलों का नाराज होना तय है। 

बुंदेलखंड में मेडिकल कॉलेज खोलने को लेकर केंद्रीय मंत्री उमा भारती और वीरेन्द्र कुमार के बाद अब छतरपुर, टीकमगढ़, दमोह और पन्ना के भाजपा नेताओं, विधायक और मंत्रियों में खींचतान बढ़ गई है। सीएम शिवराज सिंह चौहान के कोई निर्णय लेने के पहले वित्त मंत्री जयंत मलैया ने दमोह में मेडिकल कॉलेज की मांग उठा दी है तो टीकमगढ़ के विधायक केके श्रीवास्तव ने स्वास्थ्य मंत्री को निजी पत्र लिख दिया है। वहीं, छतरपुर के भाजपा विधायक और राज्यमंत्री ललिता यादव ने छतरपुर की वकालत की है। 

छतरपुर में मेडिकल कॉलेज खोलने की मांग पिछले दो साल से निरंतर की जा रही है। मेडिकल कॉलेज संघर्ष समिति के बैनर तले आठ हजार से अधिक लोगों ने सहमति पत्र भरे हैं। छतरपुर के भाजपा विधायक और राज्य मंत्री ललिता यादव, रेखा यादव, मानवेन्द्र सिंह, पुष्पेन्द्रनाथ पाठक और डॉ. आरडी प्रजापति ने छतरपुर में ही मेडिकल कॉलेज खोलने का समर्थन किया है। इस मुद्दे पर कांग्रेस विधायक और नेताओं ने भाजपा नेताओं के सुर में सुर मिलाया है। केंद्रीय राज्य मंत्री वीरेन्द्र कुमार पहले ही प्रधानमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को छतरपुर के लिए पत्र लिख चुके हैं।  

उमा भारती के बाद टीकमगढ़ विधायक ने छेड़ा राग
इधर, टीकमगढ़ के विधायक केके श्रीवास्तव ने स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा को पत्र लिखकर टीकमगढ़ में मेडिकल कॉलेज खोलने की मांग कर दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने श्रीवास्तव को जवाब भी दे दिया है कि उनके पत्र को मंत्रालय भेजकर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। केन्द्रीय मंत्री उमा भारती पहले ही दो बार कह चुकी हैं कि टीकमगढ़ में ही मेडिकल कॉलेज खोला जाएगा।

मलैया को भी चाहिए मेडीकल कॉलेज
अब वित्त मंत्री जयंत मलैया ने दमोह में मेडिकल कॉलेज खोलने की मांग करके  राजनैतिक  हवा दे दी है। उनका कहना है कि इसके लिए वे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से व्यक्तिगत मुलाकात करेंगे तथा ज्ञापन देंगे। संभावना है कि मलैया मंगलवार को दिल्ली में स्वास्थ्य मंत्री नड्डा से मुलाकात भी करेंगे। उन्होंने कहा है कि दमोह शहर के नजदीक 25 हेक्टेयर जमीन मेडिकल कॉलेज के लिए जिला प्रशासन ने चिन्हिंत भी कर ली है। उन्होंने अपनी विधायक निधि की पूरी राशि भी देने की बात कही है।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts