रहाणे खेलते तब भी कुछ नहीं होता: हरभजन सिंह | SPORTS NEWS

21 January 2018

IND vs SA के बीच जारी TEST CRICKET SERIES में TEAM INDIA पहले दो मैच हारकर सीरीज पहले से ही गंवा चुकी है। अब भारत 24 जनवरी को जोहानिसबर्ग में सम्मान बचाने के लिए अंतिम टेस्ट खेलेगा। पहले दोनों टेस्ट से AJINKYA RAHANE को बाहर रखा गया, जिसके चलते टीम मैनेजमेंट और कप्तान VIRAT KOHLI को आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा। इस मामले पर HARBHAJAN SINGH पहले ही कोहली का बचाव कर चुके हैं। अब उनका कहना है कि टीम इंडिया ने श्रीलंका के खिलाफ खेलकर कुछ हासिल नहीं किया है।

हरभजन सिंह ने एक इंटरव्यू में कहा कि ‘दक्षिण अफ्रीका के मुश्किल दौरे से पहले धर्मशाला की ऊंचाई और ठंडे मौसम के साथ वहां तेजी और उछाल के बीच तैयारी करना अनुकूल होता। इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि अगर रहाणे खेलते तो नतीजा कुछ और होता। मैं कुछ आंकड़े देख रहा था। विराट कोहली की कप्तानी में रहाणे की औसत 30 टेस्ट मैच में 40 से कम की है। इसके साथ ही पिछले एक साल से उन्होंने बहुत ज्यादा रन नहीं बनाए हैं।

हरभजन सिंह ने आगे कहा कि, ‘अगर रहाणे खेलते और भारतीय टीम 0-2 से पीछे होती तो हम कहते की रोहित को टीम में ले आओ। हमें कप्तान के दृष्टिकोण को समझना होगा। रहाणे के टीम में रहने, ना रहने पर अलग अलग राय हो सकती है लेकिन भुवनेश्वर को टीम में होना चाहिए था।’ इस ऑफ स्पिनर का मानना है कि श्रीलंका के खिलाफ घरेलू श्रृंखला से भारत को बहुत कम फायदा हुआ है। भारत को शायद ही उससे कुछ मिला। इससे अच्छा यह होता कि कुछ भारतीय क्रिकेटर पहले ही दक्षिण अफ्रीका चले जाते। अगर दक्षिण अफ्रीका नहीं, तो तैयारियों के लिए धर्मशाला भी उपयुक्त जगह है।’

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week