उस मोहल्ले में पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे क्यों लगाए: डीएम की पोस्ट @कासगंज | NATIONAL NEWS

30 January 2018

नई दिल्ली। उत्तरप्रदेश के कासगंज में हुए तनाव के बाद डीएम राघवेन्द्र विक्रम सिंह आईएएस की एक पोस्ट ने एक नई बहस शुरू कर दी है। अब योगी आदित्यनाथ सरकार तनाव में है। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि डीएम के खिलाफ सक्त कार्रवाई होगी। दरअसल, राघवेन्द्र विक्रम सिंह आईएएस ने लिखा है कि 'मुस्लिम मोहल्लों में जबर्दस्ती जुलूस ले जाओ और जबरदस्ती पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाओ, क्यों भाई वो पाकिस्तानी हैं क्या।'

बरेली के डीएम राघवेन्द्र विक्रम सिंह ने सारे फसाद की जड़ उस नारेबाजी को बताया है जो एबीवीपी कार्यकर्ताओं द्वारा की गई। उन्होंने अपनी पोस्ट में मुस्लिम इलाकों में पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए जाने पर सवाल उठाया है जिसके बाद उनके महज 39 शब्दों के पोस्ट से विवाद उत्पन्न हो गया। खास बात यह है कि पूर्व सैन्य अधिकारी रहे आईएएस अफसर राघवेंद्र विक्रम सिंह इसी साल 30 अप्रैल को सेवानिवृत्त होने वाले हैं।

डीएम ने यह पोस्ट कासगंज में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर हुए विवाद के दो दिन बाद 28 जनवरी की शाम को आर विक्रम सिंह नाम से बने अपने फेसबुक पेज पर डाली। पोस्ट में यात्रा निकालने के लिए मार्ग चुनने और फिर वहां पर नारेबाजी की बात को लिखा है। पोस्ट फेसबुक पर साझा होते ही इसके पक्ष और विरोध में तमाम लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया दी। सोमवार रात तक साढ़े तीन सौ से अधिक लोगों ने इसे लाइक किया तो 422 लोगों ने उनके पोस्ट के बाद अपने कमेंट लिखे।

प्रशासनिक अधिकारियों का काम माहौल ठीक करना
बरेली के डीएम आर विक्रम सिंह की फेसबुक पोस्ट पर उठे बवाल के बाबत प्रदेश सरकार के प्रवक्ता और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि प्रशासनिक अधिकारियों को माहौल ठीक करने में अपनी ऊर्जा लगानी चाहिए न कि बिगाड़ने में। उनका काम व्यवस्था को ठीक करना है। मीडिया या सोशल मीडिया में टीका-टिप्पणी करना नहीं। वह माहौल खराब न करें बल्कि, व्यवस्था ठीक करने में ध्यान लगाएं।

ऐसी नारेबाजी से विकास अवरुद्ध होता है
कैप्टन राघवेंद्र विक्रम सिंह, डीएम बरेली ने कहा कि वो पोस्ट मैंने ही किया था। मेरा आशय किसी मजहब या भावनाओं को आहत करना नहीं था। ऐसी घटनाओं से कानून-व्यवस्था की स्थिति बिगड़ती है। प्रशासन, पुलिस के साथ ही स्थानीय लोगों के लिए भी दिक्कतें खड़ी होती हैं। हम विकास के बारे में सोच रहे हैं, उसके बारे में बात कर रहे हैं लेकिन ऐसी घटनाओं से अनावश्यक अवरोध होते हैं। आपसी सौहार्द से ही तरक्की हासिल होती है। 

सोशल मीडिया पर बहस शुरू
सोशल मीडिया आर विक्रम सिंह के बयान के बाद 2 हिस्सों में बंट गया है। एक वर्ग इस पोस्ट पर आपत्ति जता रहा है तो दूसरा वर्ग डीएम के समर्थन में है। उनका कहना है कि इस तरह की बयानबाजी नहीं होनी चाहिए। 

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week