सीएम शिवराज सिंह का बेटा, अब दूध का कारोबार शुरू | national news

Thursday, December 21, 2017

भोपाल। सीएम शिवराज सिंह चौहान के बेटे कार्तिकेय सिंह चौहान किस प्लानिंग के साथ चल रहे हैं अब यह समझ पाना मुश्किल हो गया है। बुधनी में अपने पिता का राजनैतिक प्रतिनिधित्व करते हैं। पैदल यात्रा कर चुके हैं। सीएम के साथ बड़ा मंच भी शेयर कर चुके हैं। कुछ दिनों पहले उन्होंने भोपाल में एक फूल की दुकान खोल ली थी। अखबारों में सुर्खियां बटोरने के बाद कार्तिकेय फिर उस दुकान पर शायद ही कभी गए हों। अब दूध डेयरी शुरू करने की खबर आ रही है। बता रहे हैं कि वो 'सुधामृत' नाम से दूध लांच करने वाले है जो सांची को टक्कर देगा। याद दिला दें कि सांची शिवराज सिंह सरकार का ब्रांड है। 

पत्रकार श्री शैलेंद्र चौहान की रिपोर्ट के अनुसार कार्तिकेय ने उन्होंने 5 करोड़ का लोन लिया है। दूध के इस ब्रांड को 'सुधामृत' नाम दिया गया है, जो 65 रुपए लीटर में मिलेगा। अगले दो सप्ताह तक भोपाल में रोजाना 800 लीटर दूध की सप्लाई करने की तैयारी है। कार्तिकेय ने विदिशा के ढोलखेड़ी में सुंदर डेयरी के नाम से डेयरी शुरू की है। डेयरी 10 एकड़ जमीन पर खोली गई है। बुधवार को एक-एक लीटर दूध की बोतलों में सैंपलिंग शुरू हो गई है। पहले दिन 400 लीटर दूध चार इमली, ई-1 अरेरा कॉलोनी, पारस हर्मिटेज के घरों में भेजा गया। गुरुवार से पारस सिटी में दूध भेजा जाएगा। एक सप्ताह तक शहर में दूध की सैंपलिंग होगी। 

कहां सप्लाई करेंगे
फिलहाल इसकी सप्लाई केवल भोपाल में होगी। विदिशा में भी वितरण किया जाएगा। इसके बाद कारोबार बढ़या जाएगा। बता दें कि कार्तिकेय की दादी का नाम सुंदर और नानी का नाम सुशीला है। इसलिए उन्होंने तय किया कि 'सु' नाम से ही प्रोडक्ट होगा। कार्तिकेय कहते हैं कि अभी राजनीति में जाने का इरादा नहीं है। यह प्रोजेक्ट परिवार के लिए कर रहा हूं। मेरे दो उद्देश्य हैं। मेरे साथ डेयरी में जो काम कर रहे हैं, उनका बेहतर भविष्य बनाऊं। दूसरा, आसपास के किसानों का जीवन बेहतर बनाऊं। 

संजय प्रगट ने होर्डिंग्स क्यों लगवाए
शहरभर में लगे होर्डिंग्स किसने लगवाए? इसे लेकर भी तरह-तरह की चर्चाएं चल रही हैं। बताया जा रहा है कि शहर में लगे 40 से ज्यादा दूध के होर्डिंग्स विजन फोर्स के डायरेक्टर संजय प्रगट ने लगवाए हैं। यह कंपनी राज्य सरकार के कई प्रमुख कार्यक्रमों का मैनेजमेंट करती है। त्रिशूल और दिल्ली की प्लेनेट एडवरटाइजर्स कंपनियों की सभी प्रॉपर्टी पर ये होर्डिंग्स लगे हैं। कंपनी के राजेश शर्मा ने स्वीकार किया है कि उन्हें संजय प्रगट ने होर्डिंग्स लगाने को कहा है। वे ही भुगतान भी करेंगे। उधर, प्रगट ने कहा कि मैं तो सिर्फ सरकार के इवेंट का काम संभालता हूं। होर्डिंग्स लगवाने के धंधे में कभी नहीं उतरा। 

दरअसल पिछले कछ दिनों से शहर के हर हिस्से में लगे बड़े होर्डिंग्स ने चौंकाया था। ये होर्डिंग्स 'जल्द आ रहा है, दूध का धुला गाय का दूध' शीर्षक से नजर आ रहे थे। कैंपेन के बाद चर्चाओं ने जोर पकड़ा था कि आखिर कौन सी बड़ी कंपनी दूध के धंधे में आ रही है। 

डेयरी की क्षमता 800 लीटर
सुंदर डेयरी में अभी 200 गाय खरीदी गई हैं। यह गाय हॉलैंड की होल्सटीन फ्राइयेशियन (एचएफ) नस्ल की हैं। ये औसतन एक बार में 15 से 18 लीटर दूध देती हैं। कुछ गाय 30 लीटर तक भी दूध देती हैं। एक गाय 40 से 90 हजार में आती है। डेयरी में अभी 200 गाय और आएंगी। इनमें देसी नस्ल की गाय भी होंगी। डेयरी में 800 लीटर तक क्षमता वाला प्लांट लगाया गया है। 

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah