पटवारी परीक्षा: पीईबी और सीएम हाउस के सामने हंगामा, परीक्षार्थी नाराज | MP NEWS

Monday, December 11, 2017

भोपाल। बयोमेट्रिक सत्यापन में दिक्कत होने की वजह से रविवार को भी सैंकड़ों उम्मीदवार परीक्षा नहीं दे पाए। उन्होंने प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड और सीएम हाउस के सामने प्रदर्शन किया। पीईबी ने यह कहते हुए पल्ला झाड़ लिया कि अभ्यर्थी देरी से पहुंचे थे इसलिए प्रवेश नहीं दिया गया। इससे पहले शनिवार को हुई गड़बड़ के लिए पीईबी ने किसी को भी जिम्मेदार नहीं माना। अभ्यर्थियों का कहना है कि यहां कुछ घोटाला पक रहा है। इसलिए इस तरह के जवाब दिए जा रहे हैं। रविवार को सबसे ज्यादा दिक्कत सैम कॉलेज, ओरिएंटल, केएनपी कॉलेज और आयन कॉलेज में हुई। 

रविवार को सबसे ज्यादा दिक्कत सैम कॉलेज, ओरिएंटल, केएनपी कॉलेज और आयन कॉलेज में हुई। अभ्यर्थियों ने बताया कि वे सुबह 7 बजे ही परीक्षा केंद्रों पर पहुंच गए थे लेकिन आठ बजे तक उनका सत्यापन नहीं हो पाया। इस कारण उन्हें परीक्षा में शामिल नहीं होने दिया गया। अभ्यर्थी राहुल सेन ने बताया कि अगर बायोमेट्रिक सत्यापन नहीं हो रहा है तो इसमें वे क्या कर सकते हैं। सैम कॉलेज के बाहर परीक्षा से वंचित अभ्यर्थियों ने प्रदर्शन किया। आयन कॉलेज में कुछ अभ्यर्थियों ने हंगामा किया और पत्थर फेंके।

दूर दराज के जिलों से आए थे अभ्यर्थी
राजधानी के परीक्षा केंद्रों पर भिंड, ग्वालियर, टीकमगढ़, जबलपुर सहित दूरस्थ स्थानों से अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल होने आए थे। व्यापमं में प्रदर्शन कर रहीं अभ्यर्थी श्वेता अग्रवाल ने बताया कि वे टीकमगढ़ से यहां परीक्षा देने आईं। समय से परीक्षा केंद्र भी पहुंची पर उन्हें एंट्री नहीं दी गई। लखनलाल ने बताया कि उनका बायोमेट्रिक सत्यापन नहीं हो पाया जबकि वे समय से पहुंचे थे। अभ्यर्थियों ने बताया कि वे पौने आठ बजे सेंटर पहुंचे। उस समय लाइन लगाकर एंट्री करवाई जा रही थी लेकिन 8 बजते ही प्रवेश रोक दिया गया।

सीएम हाउस पहुंचे, आश्वासन देकर लौटा दिया
व्यापमं में सुनवाई नहीं होने के बाद परीक्षा देने से वंचित रहे नाराज अभ्यर्थी सीएम हाउस पहुंचे। पहले तो यहां उन्हें पुलिस ने भगा दिया। अभ्यर्थियों ने बताया कि तीन-चार घंटे वे लोग वहीं बैठे रहे इसके बाद एक अधिकारी ने कहा कि उनकी समस्या पर विचार करेंगे। उन्हें तीन दिन बाद जवाब देन के लिए कहा गया।
----

चार महीने के बच्चे को लाईं
मैं अपने चार महीने के बच्चे को लेकर भोपाल परीक्षा देने आई थी। मुझे समय पर पहुंचने के बावजूद केएनपी कॉलेज में एंट्री नहीं दी गई। कॉलेज ढूंढने भी बहुत परेशानी हुई। भावना गोस्वामी

सैम कॉलेज से कईयों को भगा दिया
मुझे कॉलेज में प्रवेश नहीं करने दिया गया। सैम कॉलेज मेरा सेंटर था। बायोमेट्रिक सत्यापन में बहुत परेशानी हुई। आठ बजे तक जो लाइन में लगे थे वे अंदर जा सके बाकी बाहर ही रह गए।  रवि चौहान

बड़ा घोटाला हुआ है
मैं जबलपुर से यहां परीक्षा देने आया। सैम कॉलेज में अंदर नहीं जाने दिया। दर्जनों परीक्षार्थियों के साथ ऐसा हुआ। इस परीक्षा में बड़ा घोटाला नजर आ रहा है। प्रशांत सिंह

गड़बड़ तो है 
मैं छिंदवाड़ा से परीक्षा देने आई थी। सुबह सेंटर पहुंची तो वैरिफिकेशन नहीं हुआ। यह परीक्षा सिर्फ औपचारिकता के लिए ली जा रही है। सभी को बहुत परेशानी हो रही है। रागिनी कश्यप

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week