इंदिरा गांधी के कारण मुझे नोटबंदी करनी पड़ी: नरेंद्र मोदी

Tuesday, November 7, 2017

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कहना है कि 2016 में की गई नोटबंदी की पीछे की वजह है इंदिरा गांधी का पार्टी प्रेम। जब वो पीएम थीं तभी नोटबंदी का प्रस्ताव आ गया था परंतु उन्होंने कांग्रेस के हितों का नुक्सान ना हो इसलिए नोटबंदी नहीं की और यही कारण है कि 2016 में मुझे करनी पड़ी। उन्होंने कहा कि यदि बरसों पहले उन्होंने (इंदिरा गांधी) यह काम किया होता, तो मुझे (मोदी) को यह बड़ा काम करने की जरूरत नहीं पड़ती। हिमाचल प्रदेश में रविवार को बीजेपी की चुनावी रैलियों में उन्होंने यह बात कही।

नरेंद्र मोदी ने आरोप लगाया कि इंदिरा गांधी ने नोटबंदी करने से इनकार कर दिया था, जबकि यशवंतराव चव्हाण नीत एक पैनल ने इसकी सिफारिश की थी। इंदिरा ने राष्ट्र हित के बजाय पार्टी के हित को तवज्जो दी। उन्होंने कहा कि ‘‘जब जरूरत थी तब यदि उन्होंने (इंदिरा ने) नोटबंदी कर दी होती, तो मुझे यह बड़ा काम नहीं करना पड़ता। कांग्रेस के लिए दल से बड़ा देश कभी नहीं रहा। उनके लिए उनकी पार्टी का हित पहले आता है। 

भ्रष्टाचार की जड़ है कांग्रेस
उन्होंने कहा कि कांग्रेस और भ्रष्टाचार एक दूसरे से अलग नहीं हो सकते, वे एक पेड़ और इसकी जड़ों की तरह हैं। भ्रष्टाचार के गंभीर आरोपों का सामना करने के बाद उसके सभी नेता जमानत पर रिहा हैं और वे लोग भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने की बात कर रहे हैं। भ्रष्टाचार कांग्रेस पार्टी की एक मात्र पहचान है। उन्होंने यह भी दावा किया कि कांग्रेस को डर है कि वह बेनामी संपत्ति पर रोक लगाने के लिए एक कानून लाएंगे और दूसरों के नाम पर संपत्ति खरीदने वाले सभी लोगों पर मामला दर्ज होगा क्योंकि विपक्षी पार्टी सत्ता में रहते हुए ऐसा करने में नाकाम रही है।

मेरा पुतला जलाकर मुझे डरा नहीं सकते
नोटबंदी का एक साल पूरा होने के मौके पर आठ नवंबर को कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन के आह्वान की परवाह नहीं करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि पुतला फूंका जाना उन्हें भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ लड़ाई में आगे बढ़ाने से नहीं डरा सकता। हिमाचल प्रदेश में चुनाव रैलियों में भाजपा के लिए तीन चौथाई बहुमत की मांग करते हुए उन्होंने यह बात कही।

नोटबंदी से कांग्रेस को नुक्सान हुआ इसलिए विरोध कर रही है
प्रधानमंत्री ने कहा कि नोटबंदी के बाद तीन लाख से अधिक कंपनियां बंद हो गईं और 5,000 ऐसी कंपनियों की जांच में 4000 करोड़ रुपये के फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ, जबकि अन्य के खिलाफ जांच जारी है। उन्होंने कहा कि जरा कल्पना कीजिए कि तीन लाख कंपनियों के फर्जीवाड़े की राशि क्या होगी। ‘‘इनमें से कुछ कंपनियों ने करोड़ों रुपये के कालेधन का कारोबार किया होगा लेकिन उनके कार्यालयों में सिर्फ दो कुर्सियां और एक मेज थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नोटबंदी को लेकर गुस्से में है क्योंकि वह अब तक इसके असर को महसूस कर रही है। उन्होंने कांग्रेस द्वारा प्रदर्शन का आह्वान करने की यह वजह बताई।

मैने कांग्रेस का कालाधन रद्दी कर दिया
पीएम मोदी ने कुल्लू में एक रैली में कहा, ‘‘नोटबंदी के असर का सामना करने वाले कुछ लोग अब तक शिकायत कर रहे हैं और आठ नवंबर को ‘काला दिवस’ मनाने की योजना बना रहे हैं। मेरे पुतले फूंककर कांग्रेस मुझे नहीं डरा सकती। उन्होंने पालमपुर में एक अन्य रैली में कहा, ‘‘आगामी हफ्ते में कांग्रेस शोक मनाने की योजना बना रही है। मुझे मेरे पुतले फूंके जाने का डर नहीं है। भ्रष्टाचार के खिलाफ मेरी लड़ाई नहीं रुकेगी। मोदी ने कहा कि नोटबंदी ने कांग्रेस के लोगों की नींद उड़ा दी और उन लोगों का गुस्सा ठंडा नहीं हुआ है। उन्होंने आरोप लगाया कि पार्टी के पास भारी मात्रा में नोट थे जो उनके फैसले के चलते प्रतिबंधित हो गए।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...
 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah