अच्छे मसल्स के लिए वर्कआउट और डाइट: स्पेशल गाइडलाइन यहां पढ़िए

Saturday, September 9, 2017

हेवी वर्कआउट मसल्स बनाने के तरीके का महज एक हिस्सा है। एक्सरसाइज से ज्यादा जरूरी है रिकवरी, क्योंकि एक्सरसाइज से मसल्स टूटती हैं और अगर उन्हें आराम नहीं मिलेगा तो उनका ग्रोथ नहीं हो पाएगा। यानी मसल्स तभी मजबूत बन सकेंगी, जब उनकी सही रिकवरी होगी। इसलिए वर्कआउट के साथ-साथ अच्छी डाइट और पूरी तरह रेस्ट करना भी जरूरी है। यहां इसके लिए चार टिप्स दिए जा रहे हैं, जिन्हें फॉलो करके अच्छी बॉडी और हेल्थ को मेंटेन किया जा सकता है।

1. लें अच्छी खुराक
मसल्स बिल्डिंग के लिए वेट ट्रेनिंग करने पर मेटाबॉलिज्म रेट बढ़ जाता है, क्योंकि शरीर को एक्स्ट्रा एनर्जी की भरपाई करनी पड़ती है। साथ ही, टूटी हुई मसल्स को फिर से बनाने में भी मेटाबॉलिज्म की भूमिका ज्यादा होती है। इसलिए जिस दिन एक्सरसाइज करें, उस दिन 300 से 500 तक एक्स्ट्रा कैलोरीज लें। ज्यादा प्रोटीन लेना फायदेमंद होता है। प्रोटीन मसल्स बनाने में मदद करता है। इसकी पूर्ति आप मछली, अंडे और दाल से कर सकते हैं। वर्कआउट के बाद प्रोटीन शेक भी ले सकते हैं।

2. मसल्स की मसाज जरूर करें
अच्छी मसल्स बिल्डिंग के लिए मसाज बेहद जरूरी है। टूटी हुई मसल्स इलास्टिसिटी खो देती हैं, जिससे आपके मोशन की रेंज कम होती ही है, साथ ही मसल्स की स्ट्रेंथ भी कम हो जाती है। इससे निजात पाने के लिए मसल्स पर मसाज के जरिए प्रेशर डालिए। शुरुआत प्रमुख मसल्स से कीजिए, फिर उनके आसपास की मसल्स की मसाज कीजिए। इससे न सिर्फ आपकी मसल्स तेजी से रिकवर होगी, बल्कि मोशन की रेंज भी बढ़ेगी।

3. पर्याप्त नींद लें
जब आप सोते हैं, तब भी मसल्स का बनना बंद नहीं होता। इसलिए कम नींद न्यूरो-मस्कुलर के को-ऑर्डिनेशन पर असर डाल सकती है। यानी अगर आप पूरी नींद नहीं लेंगे या कम सोएंगे तो आपके शरीर को मसल्स दोबारा बनाने के लिए पर्याप्त समय नहीं मिल पाएगा। इससे स्ट्रेंथ भी कम होगी। इसके पीछे कारण है कि हमारे शरीर में सोते समय ही सबसे ज्यादा ग्रोथ हार्मोन बनते हैं। यही हार्मोन मसल्स बनाने और उसकी रिकवरी में मदद करते हैं। इसलिए सात से आठ घंटे की नींद लेना बेहद जरूरी है।

4. ठंडे पानी से नहाएं
वर्कआउट के बाद कई बार मसल्स में दर्द की शिकायत होती है। आयरलैंड के वैज्ञानिकों ने एक रिसर्च में पाया है कि इंटेंस वर्कआउट के बाद तुरंत ठंडे पानी से नहाने में मसल्स में होने वाले दर्द को लगभग आधा किया जा सकता है। ठंडे पानी से नहाने से ब्लड वेसल्स सिकुड़ जाती हैं, जिससे इंटेंस वर्कआउट के दौरान बने बाय-प्रोडक्ट्स निकल जाते हैं। याद रखें कि सही ढंग से रिकवर हुईं मसल्स ही ज्यादा स्ट्रेंथ वाली हो सकती हैं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah