विधायक रामेश्वर शर्मा 20-21 मई को तूमड़ा में डालेंगे डेरा

17 May 2017

भोपाल। जल किसी भी धर्म के लिए आवश्यक है किसी भी धर्म में जल का स्थान सर्वोपरि माना गया है मान्यता है की जिन स्थानों पर नदी या कुण्ड होते है वहां देवता निवास करते है। आचमन से लेकर शिव के अभिषेक, जन्म से लेकर मृत्यु तक जल को पवित्रता एवं शुद्धि का पर्याय माना जाता है। जल का संधारण एवं इसके दुरूपयोग को रोकना हमारा सबका कर्तव्य है। अन्नदाता की शक्ति किसी भी देश की ख़ुशीहाली का मुख्य कारक है। यह बात आज हुज़ूर विधानसभा से विधायक एवं भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा ने 44 लाख से तूमड़ा जलाशय से नहर निर्माण कार्य के शिलान्यास समारोह में कही। 

इस नहर के निर्माण से तूमड़ा पाटनिया सहित अन्य गाँवो की लगभग 150 हेक्टेयर भूमि सिंचित होगी। इस अवसर पर श्री शर्मा ने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने ग्रोमोदय से भारत उदय अभियान की संरचना की है यही नही गाँवो का विकास समाज के अंतिम व्यक्ति के सहयोग से कैसे किया जाये यह भी सुनिश्चित किया है । श्री शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश के जननायक किसान पुत्र मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में आज मध्यप्रदेश का किसान भारत के अन्य प्रदेशो के मुकाबले अधिक उन्नत हुआ है । प्रदेश सरकार की जन कल्याण कारी योजनाओं को अन्य प्रान्तों में भी सराहा गया है। 

यह हम सबके लिए गौरव की बात है कि बीमारू ओर पिछड़ा कहा जाने वाला हमारा मध्य प्रदेश विगत कई वर्षों से कृषि कर्मण पुरस्कार से नवाजा जा रहा है इसका श्रेय प्रदेश के प्रत्येक किसान भाइयो को जाता है जिनके परिश्रम से आज प्रदेश कृषि क्षेत्र में इतनी ऊंचाइयों तक पहुंचा । उन्होंने कहा कि सरकार की योजनाओं का ठीक से क्रियान्वन की जिम्मेदारी हर जन प्रतिनिधि एवं अधिकारी की है परंतु उस योजना से लाभान्वित होने वाले नागरिको को आगे रहकर उस काम की देख रेख करनी चाहिए । जिससे समय रहते आवश्यकता अनुसार परिवर्तन किया जा सके । 

गांव वालों के साथ नदी गहरीकरण में करेंगे श्रमदान
तूमड़ा जलाशय पर नहर निर्माण कार्य का शिलान्यास करने पहुंचे विधायक रामेश्वर शर्मा ने नागरिको को संबोधित करते हुए कहा कि तूमड़ा में गहराते जल संकट के निवारण हेतु हम सबको को मिलकर इससे निपटना होगा । उन्होंने तूमड़ा वासियो से आव्हान करते हुए कहा कि 20 एवं 21 मई को तूमड़ा में डोडी ओर रातीखेड़ा वाली नदी के संगम से उत्पन्न दुमेल नदी का गहरीकरण में सपरिवार अपनी भागीदारी दे । उन्होंने कहा कि जिन के पास  ट्रेक्टर ट्रॉली , गेती फावड़ा ,तगाड़ी या जो भी संसाधन है उन संसाधनों के उपयोग से नदी के गहरीकरण में अपनी सहभागिता दे । विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि वह स्वयं 20 एवं 21 मई को पुरे समय दिन रात तूमड़ा नदी के गहरीकरण में अपनी सहभागिता देंगे । ज्ञात हो की तूमड़ा में जल स्तर अधिक नीचे चले जाने की वजह से यहाँ पानी की किल्लत का सामना नागरिको को करना पड़ता है । 

तूमड़ा की लंबे समय की मांग पूरी बनेगी नहर 
नहर के माध्यम से खेतो में पानी पहुँचाने की मांग तूमड़ा वासी बहुत लंबे समय से कर रहे थे । क्षेत्रीय हुज़ूर विधायक रामेश्वर शर्मा के अथक प्रयासो से सिंचाई विभाग द्वारा 44 लाख से अब इस निर्माण कार्य को किया जायेगा।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts