Loading...

विकिलव बटरफ्लाई परियोजना में खोजी 163 तितलियों की प्रजातियाँ

राजू जांगिड़/कोलकाता | दुनिया का सबसे बड़ा ऑनलाइन ज्ञानकोश विकिपीडिया की बन्धु परियोजना "विकिमीडिया कॉमन्स" पर कुछ बंगाली विकिमीडियन पिछले कुछ समय से एक विशेष परियोजना चला रहे है जिसका नाम "विकिलव बटरफ्लाई" रखा गया है। इस परियोजना की मुख्य भूमिका बंगाली महिला विकिमीडियन अनन्या मण्डल निभा रही है उनका कहना है कि इस परियोजना के लिए विकिमीडिया फाउंडेशन ने अनुदान भी दिया है।

इनके अलावा इनका यह भी कहना है कि पश्चिम बंगाल में लगभग 350 से भी ज्यादा तितलियों की छोटी बड़ी प्रजातियाँ है जिसमें इस परियोजना की टीम ने 163 को खोज निकाला है और उनके फ़ोटो कॉमन्स पर उचित लाइलेन्स के साथ अपलोड किये है।

इतने अपलोड किये फ़ोटो :-
आपको बतादें कि विकिमीडिया के कई और भी बन्धु परियोजनाएं भी है यानी (सिस्टर प्रोजेक्ट) जिसमें सबसे ज्यादा लोकप्रिय विकिपीडिया है और अगर उसके बाद नाम आता है तो वो कॉमन्स है यहाँ अनगिनत फ़ोटो मिलते है । इस परियोजना के अंतर्गत अब तक कुक 617 फ़ोटो अपलोड किये जा चुके है जिसमें से 44.25 प्रतिशत फ़ोटो विकिपीडिया के लेखों में प्रयोग किये जा रहे है। इन फ़ोटो में 35 प्रतिशत वेल्युड चित्र है जबकि 11 क्वॉलिटी चित्र।

इनके अलावा इस परियोजना में जिन - जिन तितलियों के लेख मौजूद नहीं है उन्हें बंगाली विकिपीडिया पर लेख भी बना रहे है । साथ ही अनन्या के अनुसार अब अंग्रेजी और जर्मन भाषा में भी लेख बनाने का कार्य आरम्भ किया है।

अब तक इस परियोजना में कुल 163 प्रजातियाँ और 26 उपप्रजातियों की पहचान की जा चुकी है, यह कार्य नेशनल सेंटर फॉर बायोलॉजिकल साइंस की टीम ने किया है।

परियोजना में है 17 सदस्य:-
शुरुआत में विकिलव बटरफ्लाई परियोजना में इतने सदस्य नहीं थे लेकिन अब 17 सदस्य टीम हो चुकी है ,जो मिलजुल कर फोटोग्राफी करते है और नए नए लेख निर्मित करते है।

ये कर रहे है इस परियोजना में मदद :-
इस परियोजना में अब नेशनल सेंटर फॉर बायोलॉजिकल साइंस ,नेचर मेट्स ,मालाबार नेचर कंजर्वेशन क्लब और बॉम्बे नैचुरल हिस्ट्री सोसायटी मदद कर रही हैं।

अनन्या मण्डल का कहना :-
हम लोग जल्द की विकिलव बटरफ्लाई का दूसरा फेज़ शुरू करेंगे जिसमें और नयी नयी प्रजातियों के चित्र लेंगे और नए लेख निर्मित करेंगे।