एक सांप ने गांव के 52 लोगों को डसा

Wednesday, October 12, 2016

रामपुर। रामपुर मिलक के ग्राम परम में सांप ने 52 लोगों को डसा है। इसमे तीन की मौत हो चुकी है। इसके चलते पूरे गांव में दहशत है। बच्चों का स्कूल जाना बंद है। ग्रामीण एक साथ हाथों में लाठी लेकर गॉव और खेतों में घूम-घूम कर सांप को तलाशने में लगे हैं। हालांकि वन विभाग से सहयोग से यह काम आसानी से हो सकता है लेकिन सरकारी अमले के असहयोग से समस्या बढ़ती जा रही है।

खेत पर पानी लगाने गय किसान नवी हसन उम्र 65 वर्ष को सांप ने खेत पर ही काट लिया सांप के काटने की सुचना पर घर वालों ने उन्हें उपचार के लिए डाक्टर के पास ले गए लेकिन 3 घंटे बाद मौत हो गई। मृतक की पत्नी ने बताया कि काले नाग ने काटा था। मो नवी ने कहा की में नवाज पढने गया था और मेरी बीबी घर के बहार लकड़ी लेकर घर में आ रही थी तब कही से साप आ गया और उसने काट लिया। संध्या ने घर में पूजा करके बेड पर लेटी थी की उसको सांप ने काट लिया और उसकी मौत हो गई। कक्षा 9 की छात्रा 18 वर्ष की संध्या के मरने के बाद पूरा परिवार दहशत में है।

मौके पर जाएं सांप पकड़वाएं
जिला अधिकारी ने बताया की डीएफओ को मौका मुआयना और सांप पकड़वाने का निर्देश दिया गया है जिसके लिए उत्तर खण्ड के काशीपुर से सपेरों को बुलाने का प्रयास जारी है और जल्द ही गॉव वालो को इससे निजात मिल जायगी साथ ही जिला अधिकारी ने कहा की लोग अफवाह न फैलाएं और न ही अफवाहों पर ध्यान दें। जिला अधिकारी कुछ भी कहे जिस पर बीतती है वो ही जनता है की डर और दहशत में जीना कितना मुशिकल होता है लोग पल पल मर रहे है और वन टीम गई भी थी मगर ग्रामीणों ने बताया की साप को देख भी लिया था था पर पकड नही पाई और बेरंग लोट आई।

चर्चा में इच्छाधारी नाग
ऐंसे में साप के काटने वाले लोगो की संख्या बढती जा रही है लोग इसे इच्छाधारी नाग और नागिन के रूप में देख रहे है हकीकत कुछ भी हो मगर पूरा गॉव दहशत में दिन रात गुजरने को मजबूर है। ग्रामीण ने बताया की यह साप इच्छा धारी साप है यह यही रहता है और जो इसका रास्ता रोकता है उसे काट लेता है साथ ही कहा की इसको पकड़ने के लिय एक सपेरे को भी बुलाकर लाये थे और सपेरा एक काली नागिन को पकड कर अपने साथ ले गया था मगर ग्रामीण ने बताया की उस सपेरे को कोड होने लगा और उसे गुरु ने कहा की जहाँ से इसे लेकर आया है वही छोड़ आओ और वो सपेरा उस नागिन को परम गॉव छोड़ आया गॉव वाले एक बार फिर से दहशत में है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah