मप्र में सोशल मीडिया पर झलकने लगा असली भाजपाईयों का दर्द

Monday, September 5, 2016

भोपाल। मप्र में अंतत: जमीनी स्तर के पुराने भाजपाईयों का दर्द बाहर आने ही लगा। लंबी चुप्पी के बाद भाजपा के अनुभवी नेता प्रकाश मीरचंदानी ने फेसबुक पर अपने दर्द को दोस्तों के बीच शेयर किया है। वो नंदकुमार सिंह की टीम में 'पराक्रम नहीं बल्कि परिक्रमा' वाले नेताओं को महत्व मिलने से नाराज हैं एवं इसे खतरनाक बता रहे हैं। 

भाजपा नेता व पूर्व टीवी पैनलिस्ट प्रकाश मीरचंदानी ने फेसबुक वॉल पर लिखा है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस की जरूरत नहीं है। यहां तो सत्ता में बैठे नेता ही काफी हैं। पार्टी में संगठन गौण हो गया है, जिस पर बड़े नेता भी मौन हैं। पराक्रम पर नेताओं की परिक्रमा भारी पड़ रही है। यहां बता दें कि मीरचंदानी को नंदकुमार ने नई टीम में जगह नहीं दी। कुछ और भी नेता हैं जो अभी खुलकर सामने नहीं आए हैं, लेकिन दबी जुबान में यही बात दोहरा रहे हैं। 

मीरचंदानी ने लिखा है कि जिनको पार्टी के विचार, नीति और उद्देश्य नहीं मालूम वो संता संगठन पर काबिज हैं। लोगों को यह भी लगने लगा है कि वे तो केवल सत्ता के लिए ही बने हैं। मीरचंदानी ने इसे विस्फोटक स्थिति बताते हुए कहा है कि इसी स्थिति का लाभ सरकारी तंत्र उठाकर जेबें भर रहा है। मीरचंदानी की इस पोस्ट पर भाजपा नेता विपिन दीक्षित ने पसंद करते हुए लिखा कि देर से ही ट्यूबलाइट तो जली। 

मीरचंदानी की पोस्ट जब चर्चा में आई तो उन्होंने अपनी सफाई भी पेश की
मेरी पोस्ट को पुरा पड़ा जाये मेने कांग्रेस के क्रियाकलापों पर जनजागरती के लिये पोस्ट लिखी है उसे ग़लत तरीक़े से लिया जा रहा है मे भाजापा पार्टी के हर निर्णय से सहमत हूं। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week