भागीरथ बने रामेश्वर शर्मा, मिटा कोलार का कलंक: विधायक हो तो ऐसा | MP NEWS

Tuesday, December 26, 2017

भोपाल। राजधानी की हुजूर विधानसभा सीट से भाजपा के विधायक रामेश्वर शर्मा ने वो कर दिखाया जो कोलार की स्थापना से लेकर आज तक नहीं हो पाया था। अंतत: केरवा का जल कोलार में आ ही गया। प्रशंसा के योग्य तो यह है कि झूठ की राजनीति के इस युग में कोलार में पानी तय डेडलाइन के भीतर ही आया। 25 दिसम्बर को कोलार में पाइप लाइन से जैसे गंगा फूट पड़ी थी और इसी के साथ कोलार का वो कलंक मिट गया जिसके कारण कोलार में लोग रहना पसंद नहीं करते थे। 

कोलारमें पानी सप्लाई शुरू करने के प्रोजेक्ट को वादे के मुताबिक 25 दिसंबर तक हर हाल में पूरा करने के लिए पिछले दो सप्ताह से 24x7 काम चल रहा था। अलसुबह 4 बजे जब पानी कोलार तक आया तो ललिता नगर और निर्मला देवी गेट के पास लीकेज हो गया। थकान भूलकर नगर निगम के इंजीनियर इस लीकेज को सुधारने में लग गए। रामेश्वर शर्मा और उनकी पूरी टीम सांस थामकर मौके पर ही डटी रही और शाम चार बजे तक यह लीकेज सुधरे और फिर केरवा डैम से सप्लाई शुरू हुई। देर रात टंकियां भरना शुरू हो गईं। अब कोलार के पास अपना पानी होगा। 

विधायक हो तो ऐसा
विधायक रामेश्वर शर्मा डेढ़साल से प्रयासरत थे। कई बार सीएम से जाकर मिले और इसके लिए विशेष अधिकारियों को निर्देश दिलवाए। हर महीने-15 दिन में वे अफसरों से पूछते रहे कि कब काम पूरा होगा? तय डेडलाइन पर पानी पहुंचाने के लिए विधायक रोजाना पूछते कि कितना काम हुआ? पंद्रह दिन में वे तीन बार केरवा पहुंचे। दो दिन पहले वे तब तक वहां डटे रहे जब तक बिजली चालू नहीं हो गई। उनका पर्सनल इंट्रेस्ट ही कोलार में जलधारा लेकर आ पाया। यह उनकी बड़ी सफलता है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week