टीकमगढ: गौर बन्धु बस जामनी नदी में जा गिरी 40 यात्री घायल | MP NEWS

Monday, December 11, 2017

टीकमगढ। टीकमगढ झॉसी राज्य मार्ग के मध्य ओरछा जामनी नदी में गौर बंधु कंस्ट्रक्शन कंपनी की बस भानपुरा कोटरा झांसी से अपने गंतव्य मार्ग खरगापुर की ओर फर्राटे मारते चली आ रही थी। जैसे ही बस जामनी नदी को पार कर रही थी। तभी चालक अपना संतुलन खो बैठा जिससे बस पुल से नीचे जा गिरी जिसमें 40 यात्री के करीब घायल हुये। इसकी सूचना राहगीरोने ओरछा, पृथ्वीपुर थाना पुलिस को दी। मौके पर दोनो थाना पुलिस ने घायल यात्रियों को नजदीक अस्पाताल में भर्ती कराया और वैधानिक कार्यवाही प्रारंभ कर दी।

घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार गौर बंधु कंट्रेक्शन कंपनी की बस भानपुरा कोटरा प्रातः 4 बजे झांसी से खरगापुरा की ओर फर्राटे मारती चली आ रही थी। उसी समय एक बडा हादसा हो गया। बस जैसे ही ओरछा सेवारी के पास जामनी नदी का पुल पार रही थी। और बस नदी के बीचों बीच पहुॅची थी। तभी बस चालक अपना संतुलन खो बैठा जिससे बस पुल से नीचे जा गिरी, बस में आवश्यकता से अधिक यात्री सवार थे। राहगीरो ने इसकी सूचना ओरछा व पृथ्वीपुर थाना पुलिस को दी। मौके पर पुलिस बल बचाव कार्य प्रारंभ किया बस दुर्घटना में 40 यात्री घायल बताये जा रहे है। घायल यात्रियो में कुछ की हालत बहुत गंभीर है। जिन्हे नजदीक अस्पाताल में भर्ती कराया गया है। बस में  अधिकॉश यात्री मजदूर वर्ग के थे। पृथ्वीपुर थाना  पुलिस ने बस चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर जॉच प्रारंभ कर दी।

आपको बता दें कि जामनी नदी के पुल से चार पाहिया वाहन निकलना प्रतिबंध है। क्योकि जामनी नदी का बहुत संकीर्ण और क्षतिग्रस्त है। पुल के पास पुलिस चौकी भी है लेकिन पुलिस की सांठ गांठ से चार पाहिया वाहन बेधड़क निकाले जा रहे है। खबर तो यह भी आ रही है। कि सागौन की लकडी की तस्करी की जाती है। जामनी नदी का पुल सागौन की लकडी की तस्करी करने में सुरक्षित माना जा रहा है। क्योकि यह पुल ओरछा के जंगल के बीचो बीच पडता है। और सुनसान इलाका है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week