भूकंप से थर्राई भारत-चीन की सीमा, 7 दिन में तीसरा भूकंप | EARTHQUAKE

Saturday, November 18, 2017

नईदिल्ली। दुनिया इन दिनों प्राकृतिक आपदाओं की शिकार हो रही है। पिछले 7 दिन में तीसरा भूकंप रिकॉर्ड किया गया है। सबसे पहले ईरान-इराक में जमीन मौत बनकर फट पड़ी और इसमें 530 लोगों की मौत हो गई। 15 नवम्बर को दक्षिण कोरिया में भूकंप आया जिसने आम जनजीवन दहशतजदा कर दिया था और अब भारत चीन की सीमा पर झटके रिकॉर्ड किए गए। अरुणाचल प्रदेश के पास भारत-चीन सीमा पर शनिवार तड़के भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 6.4 मैग्नीट्यूड दर्ज की गई है। बताया जा रहा कि भूकंप का केंद्र जमीन से दस किलोमीटर भीतर था। शुरुआती खबरों के मुताबिक अभी तक किसी तरह के जानमाल की नुकसान की कोई खबर नहीं है। विस्तृत समाचार की प्रतीक्षा है। 

एक सप्ताह पहले ही ईरान-इराक में आया था जलजला
एक सप्ताह पहले ही ईरान-इराक में भूकंप ने भीषण तबाही मचाई थी। रविवार रात ईरान-इराक सीमा पर आए 7.3 तीव्रता के भीषण भूकंप से दोनों देशों में 530 से ज्यादा लोगों की जान चली गई, जबकि हजारों लोग घायल हो गए थे।

530 से ज्यादा लोगों की हुई थी मौत
भूकंप से ईरान में 407 लोगों की मौत हो गई और 7,460 अन्य घायल हो गए. वहीं, इराक के गृह मंत्रालय के अनुसार देश के उत्तरी कुर्द क्षेत्र में भूकंप से कम से कम सात लोगों की जान गई है और 535 अन्य घायल हुए हैं। अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण के बिल्कुल हालिया माप के अनुसार भूकंप इराक के पूर्वी शहर हलबजा के 31 किलोमीटर बाहर 23.2 किलोमीटर की गहराई पर केंद्रित था।

दक्षिण कोरिया में भी भूकंप
दक्षिण कोरिया के दक्षिण पूर्वी शहर पोहांग में भी 15 नवंबर को 5.4 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। इसमें 50 से ज्यादा लोग जख्मी हुए थे, जबकि 1,500 लोग ने घरों के बाहर शरण ली है। इस देश में यह अब तक दूसरा सबसे शक्तिशाली भूकंप था, जिसका केंद्र जमीन से नौ किलोमीटर की गहराई में था।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं