इस बार अशुभ है पुष्य नक्षत्र, कृपया खरीददारी ना करें

Wednesday, October 11, 2017

इस बार पुष्य नक्षत्र 13 अक्तूबर को दिन मे 11:11 बजे से लेकर 14 अक्टूबर को सुबह 9:37 बजे तक है। दीपावली से पहले पुष्य नक्षत्र मे व्यापारी बही खाते की खरीदी करते हैं तथा आमजन स्वर्ण चांदी तथा कीमती वस्तुओं की खरीदी करते है लेकिन इस बार 13 अक्टूबर को जो पुष्य नक्षत्र आ रहा है वो बहुत अशुभ है। इस दिन की गई खरीदी का अशुभ एवं उत्पातकारी परिणाम मिलेगा। यदि बहुत जरूरी है तो कृपया शनिवार की सुबह खरीददारी करें। 

क्यों शुभ होता है पुष्य नक्षत्र
पुष्य नक्षत्र के स्वामी शनिदेव होते है लेकिन पुष्य नक्षत्र कर्क राशि मे आता है जो की गुरु की उच्च राशि है। इसीलिये इस नक्षत्र पर गुरु ग्रह का विशेष प्रभाव होता है। शनिग्रह धातु का कारक होता है। शनि की धातु लोहा तथा गुरु की धातु स्वर्ण होती है। इसीलिये इस नक्षत्र मे स्वर्ण या कोई भी धातु सम्पत्ति खरीदना वृद्धिकारक व फलदायक होता है। देवगुरु जो की धन व समृद्धि के कारक है इस नक्षत्र पर अपना उच्च प्रभाव रखते है इसीलिये इस नक्षत्र पर खरीदी करना शुभ होता है।

इस बार अशुभ क्यों है
सप्ताह के सभी सातों दिन मे पुष्य नक्षत्र शुभ नही माना जाता। विशेषकर शुक्रवार तथा बुधवार को यह नक्षत्र अशुभ माना जाता है। शुक्रवार को पुष्य नक्षत्र मे किया गया कार्य अशुभ तथा उत्पातकारी होता है। वही नपुंसक बुधवार के दिन पुष्य नक्षत्र कोई फल नही देता। 13 अक्टूबर को पुष्य नक्षत्र शुक्रवार के दिन ही है जो की शास्त्रों के अनुसार अशुभ है।

खरीददारी अनिवार्य हो तो यह उपाय करें
शुक्रवार के दिन पुष्य नक्षत्र किया गय़ा कार्य अशुभ तथा उत्पातकारी होता है। अत: शुक्रवार को किसी भी स्थिति में खरीदारी ना करें। यदि कोई प्राचीन परंपरा का निर्वाह करना ही है तो इस उत्पात से बचने के लिये आपको इस दिन खट्टा बिल्कुल नही खाना चाहिये। इसके अलावा खरीदी गई कोई भी वस्तु सबसे पहले अपने गुरु को अर्पण करना चाहिये।

शनिवार को करे खरीदी
रात को बारह बजे शुक्रवार समाप्त हो जायेगा शनिवार प्रारंभ हो जायेगा। सुबह 4:30 बजे से लेकर 9:38 तक पुष्य नक्षत्र रहेगा। इस समयावधि मे सुबह 7:30 से 9:00 बजे तक शुभ का चोघडिया रहेगा। जो बही खाता खरीदने तथा खरीदी के लिये अत्यंत शुभ रहेगा। यदि खरीदी करना ही है तो इस समय का लाभ उठावे।
*प.चंद्रशेखर नेमा"हिमांशु"*
9893280184,7000460931

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं