दिग्विजय सिंह पहले नर्मदा परिक्रमा कर लेते तो यह दिन नहीं देखने पड़ते: रामेश्वर शर्मा

Sunday, October 8, 2017

भोपाल। जब मै नगर निगम भोपाल में नेता प्रतिपक्ष हुआ करता था तब मैंने तत्कालीन मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह से भोपाल में नर्मदा लाने की मांग की थी तब उन्होंने सार्वजानिक रूप से कहा था जिन्हें नर्मदा पसंद है वो नर्मदा के तट पर बस जाएं। शायद उन्ही शब्दों की पुनरावत्ति आज यह प्रदेश देख रहा है। गंगा यमुना सरस्वती नर्मदा जैसी पवित्र नदियों के महत्त्व को अगर दिग्विजय सिंह ने समझा होता तो आज कांग्रेस को मध्यप्रदेश सहित पूरे भारत वर्ष में अपना अस्तित्व तलाशने की आवश्यकता नहीं पड़ती। 

यह बात आज हुजूर विधानसभा से विधायक एवं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा ने डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी नगर में मुखर्जी स्टेडियम में खेल पार्क एवं उसके विकास कार्यो के शिलान्यास समारोह के दौरान कही, इस दौरान नगर निगम भोपाल के अध्यक्ष सुरजीत सिंह चौहान, स्थानीय पार्षद वार्ड 80 रविन्द्र यति, एम आई सी सदस्य भूपेंद्र माली, पार्षद पवन बोराना, मंडल अध्यक्ष बी एस वाजपेयी, मंडल महामंत्री कमलेश ठाकुर , सुनील अहिरवार , गुड्डू भदोरिया आदि उपस्थित रहे। 

विधायक रामेश्वर शर्मा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा की इस भोपाल में माँ नर्मदा का जल लाने वाले माँ नर्मदा के लाल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हैं। वह माँ नर्मदा की गोद में खेले है। उनको माँ नर्मदा का शुभ आशीष प्राप्त है। नर्मदा सेवा यात्रा के माध्यम से मुख्यमंत्री जी ने इस प्रदेश की जीवन रेखा माँ नर्मदा एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए किए प्रयासों को सम्पूर्ण विश्व ने सराहा है, मानवीय सरोकारों के साथ सामाजिक, धार्मिक, सांस्कृतिक मूल्य को समझने वाली शिवराज सरकार इस प्रदेश के अंतिम व्यक्ति के कल्याण के लिए कृत संकल्पित है। बेटी का विवाह, बुजुर्गो को तीर्थ दर्शन, गरीबो के लिए एक रुपए किलो अनाज, प्रदेश के बेटा बेटियों को निशुल्क शिक्षा, बेहतर स्वास्थ्य सेवा यह शिवराज सरकार के वह काम है जिनकी वजह से आज श्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता के दिलो में बसते है।

विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा की कांग्रेस जाति धर्म समाज की राजनीति करती है सत्ता के लिए इनके सिद्धांतो में परिवर्तन आसानी से देखा जा सकता है, उन्होंने कहा की राष्ट्रवाद की प्रष्ठभूमि से सार्वजानिक क्षेत्र में काम करने वाला भारतीय जनता पार्टी का एक एक कार्यकर्ता समाज के अंतिम व्यक्ति के उत्थान के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने के लिए सदैव तैयार रहता है। 

भारत में क़त्ल खाने कांग्रेस की देन: रामेश्वर शर्मा
कांग्रेस राजनैतिक रोटियां सेकने में माहिर है नागरिको की भावनाओ के साथ उसे खिलवाड़ करना आता है वह अच्छी तरह जानते है की किस तरह सामाजिक सौहाद्र बिगाड़ा जा सकता है ,परन्तु अब वह समय गया, जब ये कांग्रेसी इस देश के नागरिको की भावनाओ से खेला करते थे। विधायक शर्मा ने कहा की इस देश का नागरिक जानता है की भोपाल अपितु  सम्पूर्ण भारत में क़त्ल खाना खुलवाने वाले कोई और नहीं बल्कि कांग्रेस के ही नेता है जो आज बहरूपिया बनकर स्वांग रच रहे है। गौ माता के प्रति कांग्रेसी नेताओ का यह भाव तब कहाँ चला गया था जब चंद महीने पहले केरल के एक कांग्रेसी नेता ने बीच चौराहे पर गौ माता की हत्या कर बीफ़ पार्टी मनायी थी। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली  मध्यप्रदेश सरकार गौ हत्या के खिलाफ कानून बनाने वाली भारत की पहली सरकार है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं