SHIVPURI में भड़के स्वास्थ्य मंत्री, दिया विवादित बयान

Thursday, September 7, 2017

ललित मुदगल/शिवपुरी। दौरे पर आए शिवपुरी के प्रभारीमंत्री एवं मप्र के स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह ने अजीब तरह की प्रतिक्रियाएं दीं हैं। उनका कहना है कि 'राजमाता विजयाराजे सिंधिया ट्रामा सेंटर' में जो वेंटिलेटर लगा है वो कांग्रेस की देन नहीं है, इसलिए सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को अधिकार नहीं है कि वो इस संदर्भ में भाजपा सरकार पर आरोप लगाए। बता दें कि शिवपुरी में संचालित ट्रामा सेंटर बंद कर दिया गया है। यह सेंटर नेशनल हाइवे पर एक्सीडेंट में घायल लोगों को जीवन दान दिया करता था। सिंधिया ने इसे मुद्दा बनाया है। आम जनता में भी इसे लेकर आक्रोश है। 

स्वास्थय मंत्री रूस्तम सिंह यहीं नहीं रुके। उन्होंने कहा कि सिंधिया के पास आरोप लगाने के अलावा कोई काम नहीं है। रूस्तम सिंह ने भडक़ते हुए कहा कि मेरा आग्रह है कि सिंधिया से पूछिए की 2003 में इनकी सरकार थी। तब शिवपुरी में ट्रॉमा सेंटर था क्या, डायलिसिस थी क्या। 

डॉक्टर नहीं आ रहे तो मैं क्या करूं 
मप्र शासन के स्वास्थ्य मंत्री रूस्तम सिंह ने एक और विवादित बयान दिया। उन्होंने स्वीकार किया कि जिले में डाक्टरों की भारी कमी है। में डॉक्टरों की व्यवस्था करता हूं तो दूसरी जगह डॉक्टर कम हो जाते है। अब डॉक्टर तत्काल तो तैयार नहीं होते इन्हें तैयार होने में समय लगता है। हम सब चीजों को बेहतर तरीके से सुधारना चाहते है। अब डॉक्टर नहीं आना चाहते तो हम क्या कर सकते है। डॉक्टर आएगें अगर नहीं आए तो आप ही बताए हम क्या कर सकते हैं। कोई भी डॉक्टर अपनी इच्छा से पोस्टिंग चाहते है कोई आना ही नहीं चाहते।

इसमें विवादित क्या है
सरकार की यह जिम्मेदारी है कि वह शिक्षा, स्वास्थ्य एवं सड़क जैसी मूलभूत जरूरतों की पूर्ति करे। वह अपनी जिम्मेदारी से कानूनी तौर पर भी भाग नहीं सकती। सरकार आम जनता से कई तरह के टैक्स वसूलती है ताकि वो जनता को शिक्षा, स्वास्थ्य एवं सड़क जैसी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करा सके। मप्र में 14 साल से भाजपा की सरकार है। इतना समय गुजर जाने के बाद स्वास्थ्य मंत्री का यह बयान ना केवल गैरजिम्मेदाराना है बल्कि गैर संवैधानिक भी है। स्वास्थ्य मंत्री ने बयान दिया है कि डॉक्टर अगर नहीं आए तो आप ही बताए हम क्या कर सकते हैं। इसका प्रतिउत्तर सिर्फ एक ही हो सकता है। विभाग संभल नहीं रहा तो इस्तीफा क्यों नहीं दे देते रुस्तम। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week