JNU में ABVP का सफाया, फिर भी भाजपाईयों ने बधाई दे डाली

Sunday, September 10, 2017

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर एक्ट्रा एक्टिव हो जाना भी कभी कभी नेताओं का मजाक बना देता है। देश के प्रतिष्ठित जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में संपन्न हुए छात्र संघ चुनाव में ऐसा ही हुआ। परिणाम आने से पहले ही अफवाह उड़ा दी गई कि एबीवीपी ने जेएनयू चुनाव जीत लिया है। बिना कंफर्म किए, भाजपा के दिग्गजों ने बधाई देना शुरू कर दिया। अपनी अपनी सोशल मीडिया वॉल पर छाप डाला 'भारत माता के टुकड़े करने वालों की हार हुई, भारत माता की जय करने वालों की जीत।' बाद में पता चला एबीवीपी की तो शर्मनाक हार हुई है। चारों सीटों पर सफाया हो गया। अब विरोधी भाजपा के मजे ले रहे हैं। 

पीटीआई की ख़बर के मुताबिक अध्यक्ष पद पर यूनाइटेड लेफ़्ट की उम्मीदवार गीता कुमारी ने जीत दर्ज़ की है। इस बार के चुनावों की सबसे ख़ास बात यह रही कि सभी दलों ने अध्यक्ष पद के लिए महिला उम्मीदवारों को ही खड़ा किया था। इससे पहले देर रात अफ़वाह उड़ी कि एबीवीपी ने चुनाव जीत लिया है। जिसके बाद भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट करके बधाई भी दे दी। लेकिन जब पता चला कि यह महज़ अफ़वाह है तो उहोंने ट्वीट हटा दिया लेकिन तब तक लोगों की नज़रें उस पर पड़ चुकी थीं। ट्वीट डिलीट कर दिया गया था लेकिन तब तक स्क्रीन शॉट लिए जा चुके थे।

रिज़ल्ट आने के बाद से ही ट्विटर पर #UnitedLeft ट्रेंड कर रहा है। छात्र एक-दूसरे को बधाई तो दे ही रहे हैं साथ ही कई मज़ेदार कमेंट्स भी कर रहे हैं। दुष्यंत लिखते हैं कि एकबार फिर जेएनयू छात्र संघ चुनाव में एबीवीपी हार गई। टैंक काम नहीं आए...सरकार को कुछ फ़ाइटर प्लेन रख देने चाहिए और हो सके तो कुछ सबमरीन भी कैंपस में रखवा देने चाहिए। मीणा लिखते हैं उन्होंने सीटें कम कर दीं, टैंक रखवा दिए, छात्र ग़ायब हो गए। सबकुछ हो गया फिर भी एबीवीपी हार गई। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week